scriptUP Election 2022 Ayodhya Vidhansabha importance for BJP | Uttar Pradesh Assembly Election 2022 : भाजपा के कार्यकर्ता से लेकर पीएम मोदी तक यहां झुकाते हैं सिर, संतों के आशीर्वाद से अयोध्या में फहरता है भगवा | Patrika News

Uttar Pradesh Assembly Election 2022 : भाजपा के कार्यकर्ता से लेकर पीएम मोदी तक यहां झुकाते हैं सिर, संतों के आशीर्वाद से अयोध्या में फहरता है भगवा

श्री राम जन्मभूमि मंदिर (Shri Ram Janmabhoomi temple) आंदोलन से हमेशा दूरी बनाए रखने वाले राजनीतिक दल समाजवादी पार्टी, बसपा और कांग्रेस के नेता अब घूम फिर कर किसी न किसी बहाने अयोध्या ( Ayodhya) पहुंच रहे हैं। भाजपा की राजनीति ने ऐसे दलों को बैकफुट पर ला दिया है। आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी संजय सिंह व समाजवादी पार्टी के नेता तेज नारायण पांडेय ने मंदिर निर्माण के लिए खरीदी गई जमीन में घपले का आरोप लगाया था।

लखनऊ

Published: January 04, 2022 05:30:18 pm

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

अयोध्या. यह राम नगरी अयोध्या (Ayodhya) ही है, जहां देश के राट्रपति, प्रधानमंत्री से लेकर देश के बड़े-बड़े राज्यों के मुख्यमंत्री तक भगवान राम के चरणों में शीश झुकाने पहुंचते हैं। राम का गुणगान करते हैं। संतों का आशीर्वाद लेते हैं। संकल्प लेते हैं कि ऐसा करके देश में राम राज्य लाए हैं। इस तरह के संकल्प और संतों से आशीर्वाद लेने की होड़ हर दिन रहती है।
Uttar Pradesh Assembly Election 2022 : भाजपा के कार्यकर्ता से लेकर पीएम मोदी तक यहां झुकाते हैं सिर, संतों के आशीर्वाद से अयोध्या में फहरता है भगवा
Uttar Pradesh Assembly Election 2022 : भाजपा के कार्यकर्ता से लेकर पीएम मोदी तक यहां झुकाते हैं सिर, संतों के आशीर्वाद से अयोध्या में फहरता है भगवा
देश की राजनीति का केंद्र बिंदु अयोध्या ( Ayodhya) शताब्दियों से बदलाव की गवाह रही है। इन बदलावों को अपने में समेटे सरयू नदी की धार आगे ही बढ़ती जाती है। बिल्कुल निश्छल। इसी नगरी में प्रभु राम ने जन्म लिया। अब उन्हीं का भव्य राम मंदिर (Shri Ram Janmabhoomi temple) बन रहा है और इसके आंदोलन ने राजनीति की दिशा-दशा दोनों बदल दी। अब फिर Uttar Pradesh Assembly Election 2022 नजदीक आ रहें हैं तो प्रभु राम का आशीर्वाद पाने के लिए राजनीतिक दलों के नेता चरण रज लेने पहुंच रहें हैं लेकिन भारतीय जनता पार्टी इसे आत्मसात कर चुकी है। शायद यही कारण है कि भाजपा बिना किसी लाग लपेट के Uttar Pradesh Assembly Election 2022 के चुनावी माहौल को अपने अनुकूल बनाने में लगी है।
यह भी पढ़ें
Uttar Pradesh Assembly Election 2022 : मिल्कीपुर में सामंतशाही -हिंसा की जड़ों को खूब मिलता है खाद-पानी, चुनावी रंजिश में जा चुकी है कई की जान

2017 विधानसभा चुनाव में भाजपा ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी। इसमें 50 हजार से अधिक मतों से जीतने वाली सीटों में अयोध्या विधानसभा ( Ayodhya assembly) सीट भी शामिल है। भारतीय जनता पार्टी के वेद प्रकाश गुप्ता ने भगवा लहराया था। इन्हें 107014वोट मिले थे जबकि दूसरे नंबर पर रहे समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी तेज नारायण पांडेय को 56574वोट मिले। तीसरे नंबर पर रहे बसपा के मोहम्मद बजमी सिद्दीकी को 39554 वोट मिले।

यह भी पढ़ें
Uttar Pradesh Assembly Election 2022 : बीकापुर में लड़ाई भाजपा-सपा की लेकिन बसपा भी कमजोर नहीं

विकास के लिए खोला खजाना
अयोध्या (Ayodhya ) के विकास के लिए मोदी-योगी सरकार ने अरबों-खरबों की विकास योजनाएं शुरू की हैं। यहां मेडिकल कॉलेज, एयरपोर्ट से लेकर कई बड़ी परियोजनाओं पर तेजी से काम हो रहा है। नव्य अयोध्या बसाई जा रही है। बड़े घरानों के निवेश के लिए अयोध्या सबसे मुफीद जगह नजर आ रही है। जमीन खरीदी को लेकर उठे विवादों की योगी सरकार जांच भी करा रही है।
वर्ष 2022 के चुनाव में क्या
वैसे तो अयोध्या में साल के 365 दिन और 24घंटे राम नाम की गूंज रहती है। देश-दुनिया से राम भक्त यहां राम जन्मभूमि पर विराजमान राम लला के दर्शन के लिए आते हैं। जब से राम मंदिर निर्माण ( Shri Ram Janmabhoomi temple) तेज हुआ है, तब से अधिक चहलकदमी होने लगी है। इसी माहौल में विधानसभा चुनाव की गतिविधियां भी चल रही हैं। भारतीय जनता पार्टी इस सीट को हर हाल में अपने पास बनाए रखना चाहती है। इसलिए पूरी ताकत से चुनावी मुहिम में जुटी है। हाल ही में जन विश्वास यात्रा के बीच केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की जनसभा हो चुकी है। आने वाले दिनों में कई और बड़े राजनेता अयोध्या का रुख करेंगे। वर्तमान परिवेश में यह मुश्किल नहीं लगता है। उधर समाजवादी पार्टी के तेज नारायण पांडेय टिकट की उम्मीद में जगह-जगह कार्यकर्ताओं से बैठकें व कार्यक्रम कर रहे हैं लेकिन वर्ष 2017 के चुनाव में भाजपा की जीत का अंतर लगभग 50 हजार था। ऐसे में Uttar Pradesh Assembly Election 2022 में सपा के लिए यह अंतर दूर कर पाना पहाड़ चढऩे जैसा ही है। वैसे भी जिले की सभी सीटों पर भाजपा का ही कब्जा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

जापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांगऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में भीषण सड़क हादसा, पूर्णिया में ट्रक पलटने से 8 लोगों की मौतश्रीनगर पुलिस ने लश्कर के 2 आतंकवादियों को किया गिरफ्तार, भारी संख्या में हथियार बरामदGood News on Inflation: महंगाई पर चौकन्नी हुई मोदी सरकार, पहले बढ़ाई महंगाई, अब करेगी महंगाई से लड़ाईकोरोना वायरस का नहीं टला है खतरा, डेल्टा-ओमिक्रॉन के बाद अब दो नए सब वैरिएंट की दस्तक से बढ़ी चिंता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.