इस राज्य के उम्मीदवारों से तीन गुना ज्यादा गरीब हैं पश्चिम बंगाल के कैंडीडेट्स

एसोसिएशन डेमोक्रेटिक रिफॉम्र्स की रिपोर्ट के अनुसार पुडुचेरी के उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 2.14 करोड़ रुपए है। जबकि पश्चिम बंगाल के उम्मीदवारों की औसम संपत्ति सिर्फ 72 लाख रुपए है। वैसे असम के उम्मीदवारों की औसम संपत्ति 2.07 करोड़ रुपए है।

By: Saurabh Sharma

Published: 30 Mar 2021, 01:53 PM IST

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल और असम में पहला फेज का चुनाव हो चुका है। दूसरे फेज की तैयारी जोर शोर से चल रही है। वहीं बात पुडुचेरी विधानसभा चुनाव 2021 की करें तो 6 अप्रैल को होगा, जोकि एक ही चरण में है। अगर बात तीनों राज्यों के उम्मीदवारों की बात करें तो सबसे ज्यादा अमीर पुडुचेरी के उम्मीदवार हैं। जिनकी औसत संपत्ति पश्चिम बंगाल के उम्मीदवारों की औसत संपत्ति से तीन गुना ज्यादा है। यह बात एसोसिएशन डेमोक्रेटिक रिफॉम्र्स यानी एडीआर की रिपोर्ट में सामने आई है। अभी तक एडीआर ने पुडुचेरी की रिपोर्ट सामने रखी है। जबकि पश्चिम बंगाल और असम के तीन फेज के उम्मीदवारों की रिपोर्ट सामने आई है। तमिलनाडु और केरल के उम्मीदवारों की रिपोर्ट अभी तक नहीं है। ऐसे में श्चड्डह्लह्म्द्बद्मड्ड.ष्शद्व ने तीन राज्यों की मौजूदा रिपोर्ट के आधार पर ही अपनी इस रिपोर्ट को तैयार किया है। आइए आपको भी बताते हैं कि तीनों राज्यों के उम्मीदवारों के पास कितनी औसत संपत्ति है।

यह भी पढ़ेंः- West Bengal Assembly Elections 2021: भाजपा ने चौथे चरण के लिए स्टार प्रचारकों की सूची में सिंधिया को भी किया शामिल

एक करोड़ रुपए भी नहीं है बंगाली उम्मीदवारों के पास औसत संपत्ति
पहले बात पश्चिम बंगाल की करें तो वहां पर उम्मीदवारों की औसत संपत्ति एक करोड़ रुपए भी है। एडीआर ने अभी तीन फेज के मतदान के उम्मीदवारों का डाटा के आधार पर रिपोर्ट तैयार की है। तीनों फेज के उम्मीदवारों के पास औसत संपत्ति सिर्फ 72 लाख रुपए के आसपास है। सबसे ज्यादा संपत्ति दूसरे चरण के उम्मीदवारों के पास है। जिनकी औसत संपत्ति 92 लाख रुपए है। बंगाल में पहले चरण का मतदान हो चुका है, जबकि दूसरे चरण का मतदान 1 अप्रैल को होना है। सबसे ज्यादा 8 चरणों में मतदान इसी राज्य में होगा।

असम के उम्मीदवार हैं दो करोड़ी
वहीं असम विधानसभा चुनाव के उम्मीदवारों की बात करें तो तीन चरणों में मतदान होगा। एडीआर की ओर से तीनों चरणों की अलग-अलग रिपोर्ट सामने रख दी है। तीनों चरणों के उम्मीदवारों की संपत्ति बात करें तो औसतन 2 करोड़ रुपए है। पहले चरण के उम्मीदवारों के पास औसत संपत्ति 2 करोड़ रुपए से थोड़ी ही कम थी। दूसरे और तीसरे चरण के उम्मीदवारों के 2.20 करोड़ रुपए औसत संपत्ति है। जिसके बाद तीनों फेज के उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 2.07 करोड़ रुपए बैठ रही है।

यह भी पढ़ेंः- Assam Assembly Elections 2021: असम के इस जिले का बिहार से है खास कनेक्शन, जानिए क्यों है सबकी नजर

पुडुचेरी के उम्मीदवार सबसे ज्यादा अमीर
वहीं एडीआर की रिपोर्ट देखने के बाद पता चलता है कि पुडुचेरी के उम्मीदवार सबसे ज्यादा अमीर है। यहां सिर्फ 1 ही फेज में यानी 6 अप्रैल को मतदान होना है। यहां के उम्मीदवारों के पास औसत संपत्ति 2.14 करोड़ रुपए है। खास बात तो ये है कि यहां के उम्मीदवार बंगाल के उम्मीदवारों के मुकाबले 3 गुना ज्यादा अमीर है। पुडुचेरी में कुल 324 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं। ऐसे में यहां पर काफी दिलचस्प मुकाबला देखने को मिलेगा।

Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned