scriptWhat did Aditi Singh write on Facebook? anywhere it is | अदिति सिंह ने फेसबुक पर यह क्या लिखा दिया, कहीं ये भी तो | Patrika News

अदिति सिंह ने फेसबुक पर यह क्या लिखा दिया, कहीं ये भी तो

Uttar Pradesh Assembly Election 2022 यूपी की राजनीति में अचानक तूफान सा आ गया। मंगलवार को स्वामी प्रसाद मौर्य ने धमाका किया और बुधवार को दारा सिंह चौहान ने। दोनों मंत्रियों ने भाजपा सरकार के मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। अब एक और भाजपा नेता अदिति सिंह आज अपने फेसबुक पर लिखा एक शब्द, जिसके बाद अटकलों की आई बाढ़। जानिए आखिरकार वो शब्द क्या है...

लखनऊ

Published: January 12, 2022 07:18:06 pm

यूपी विधानसभा चुनाव की डेट का ऐलान होने के तत्काल बाद से सूबे की राजनीतिक दल अपने कील कांटे लेकर तैयारियों में जुट गए हैं। 10 फरवरी को चुनाव 2022 के पहले फेज के लिए मतदान होंगे। समय कम है। पर इधर भाजपा के अंदर असंतुष्ट खेमे में सुगबुगाहट शुरू हो गई। और एक के बाद एक विकेट गिरना शुरू हो गए। हलचल इसलिए भी अधिक होने लगी क्योंकि 24 घंटे के भीतर योगी सरकार के दो मंत्री सहित कई विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है। पहले भाजपा के पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य इस्तीफा दिया फिर आज बुधवार को योगी सरकार में वन, पर्यावरण एवं जन्तु उद्यान मंत्री रहे दारा सिंह चौहान ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। 24 घंटे में योगी सरकार के दूसरे मंत्री ने इस्तीफा दिया है। इधर भाजपा की नेता और रायबरेली सदर से विधायक अदिति सिंह की ओर से किए गए एक फेसबुक पोस्ट ने तमाम अटकलों को जन्म दे दिया है। अदिति ने बुधवार सुबह फेसबुक पर 'सब्र' लिखा तो उनके तमाम समर्थक और विरोधी इसके मायने निकालने में जुट गए हैं।
Aditi Singh
Aditi Singh
रायबरेली सदर से विधायक अदिति सिंह ने जब 'सब्र' लिखा तो सोशल मीडिया यूजर्स इसके मायने तलाशने में जुटे हैं। किसी ने उन्हें 'सब्र' रखने की सलाह दी तो किसी ने पूछा कि क्या उनका भी 'सब्र' टूट रहा है। कुछ ने उन्हें यह भी कहा कि उन्होंने ही 'सब्र' नहीं रखा और कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गईं। हालांकि, खुद अदिति ने इस पर कुछ नहीं कहा है। राजनीतिक गलियारों में चर्चाएं तेज हो गई है। और सभी अपने अपने ढंग से कयास लगा रहे हैं।
यह भी पढ़ें

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के लिए पोस्टर वार शुरू, भाजपा का पहला पोस्टर जारी

2017 में कांग्रेस के टिकट पर विधायक बनी थीं अदिति सिंह

अदिति सिंह 2017 में कांग्रेस के टिकट पर विधायक बनी थीं। लेकन बाद में उन्होंने बागी रुख अख्तियार कर लिया था। पिछले साल 24 नवंबर को उन्होंने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली है। अदिति को राजनीति विरासत में अपने पिता अखिलेश सिंह से मिली, जो कद्दावर नेता माने जाते थे। वे रायबरेली से कांग्रेस और पांच बार निर्दलीय विधायक रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहकर्नाटक में कोरोना की रफ्तार तेज, 47  हजार से अधिक नए मामलेरामगढ़ पचवारा में बरसे टिकैत, कहा किसानों की जमीन को छीनने नहीं दिया जाएगाप्रदेश के डेढ़ दर्जन जिलों में रेत का अवैध परिवहन जारी, सरकार को करोड़ों का नुकसान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.