scriptwomen voters will decide who will be formed government in UP Election | UP Election 2022: .. इस प्रदेश में तो आधी आबादी ही तय करती है किसकी बनेगी सरकार | Patrika News

UP Election 2022: .. इस प्रदेश में तो आधी आबादी ही तय करती है किसकी बनेगी सरकार

UP Election 2022 के लिए सत्ता संग्राम जारी है। इसमें आधी आबादी की भूमिका इस बार भी निर्णायक होने जा रही है। कारण साफ है कि प्रदेश की महिलाओं ने पांच साल तक जो भी सुख-दुख झेला है उसके मद्देनजर वो इस बार फैसला करेंगी। उनके सामने बीते पांच साल का परिदृश्य होगा। ऐसा सिर्फ इस बार नहीं होने जा रहा बल्कि पिछले तीन चुनावों से ऐसा ही हो रहा है।

वाराणसी

Published: January 22, 2022 01:18:48 pm

वाराणसी. देश हो या प्रदेश अब वो जमाना गया जब महिलाएं घर की चौखट तक नहीं लांघती रहीं। अब वो पुरुषों से कंधे से कंधा मिला कर चल रही हैं। देश व प्रदेश की सियासत में अपनी अहम भूमिका अदा करती है। वो अब ये तय करने लगी हैं कि इस बार हमारा नेता कौन होगा? कौन बैठेगा सत्ता के सिंहासन पर। अब घर का मुखिया तय नहीं करेगा कि किसे वोट देना है। कम से कम यूपी के पिछले तीन चुनाव परिणाम तो यही बताते हैं, तो भला इस दफा वो क्यों पीछे रहें। वो इस बार भी पिछले पांच साल के लाभ-हानि, सुख-दुख को देखते हुए अपनी मनपसंद सरकार बनाएंगी।
Women Voters
Women Voters
पिछले तीन चुनावों के परिणाम

वर्ष- पार्टी-महिलाओ के वोट (प्रतिशत में)

2007-बसपा- 32 फीसद वोट
2012-सपा- 31 फीसद वोट
2017-भाजपा-41 फीसद वोट
2022 का चुनाव होगा महत्वपूर्ण

महिलाओं ने दिलाई पूर्ण बहुमत की सरकार

पिछले तीन चुनावों में आधी आबादी ने ये दिखा दिया है कि उन्हें सियासत की भी अच्छी जानकारी है। वो अपने घर के साथ-साथ दुनियादारी की भी खबर रखने लगी है। राजनीति में उनकी अच्छी खासी दखलंदाजी है। ये महिलाएं ही है कि पिछले दो दशक से यूपी की सियासत की दिशा तय कर रही हैं। इनकी सक्रियता का ही परिणाम है कि दो दशक से सूबे के पूर्ण बहुमत वाली सरकार मिल रही है।
हर दल को दिखाई है ताकत
महिलाओं ने पिछले दो दशक में अपनी हनक दिखाई है। बताया है कि सियासत में उनका क्या वजूद है। वो अपने एक वोट की कीमत को पहचानने लगी है। महिलाओं के लिए पिछले चुनाव में जब भारतीय जनता पार्टी ने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा दिया तो महिलाओं ने भी उसका जमकर समर्थन किया और सर्वाधिक 41 फीसद मत दे कर सत्ता के सिंहासन तक पहुंचाया।
महिलाओं की इस हनक को देख कर ही प्रियंका ने दिया है लड़की हूं लड़ सकती हूं का स्लोगन

यूपी की सियासत में महिलाओं की हनक ने ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को प्रेरित किया। नतीजा सामने है, प्रियंका गांधी वाड्रा जो खुद एक महिला है ने पार्टी का चुनावी स्लोगन दिया, लड़की हूं लड़ सकती हूं। अब ये स्लोगन कांग्रेस को कितना फायदा पहुंचाएगा ये तो 10 मार्च को ही पता चलेगा लेकिन ये तय है कि इस बार भी महिलाएं सोच समझ कर, नफा नुकासन देख कर ही ईवीएम का बटन दबाएंगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टोक्यो पहुंचे, भारतीय प्रवासियों ने किया स्वागत, जापानी बच्चे के हिन्दी बोलने पर गदगद हुए PMदिल्ली-NCR में सुबह आंधी और बारिश से कई जगह उखड़े पेड़, विमान सेवा प्रभावितज्ञानवापी मामले के बीच गोवा के सीएम का बड़ा बयान, प्रमोद सावंत बोले- 'जहां भी मंदिर तोड़े गए फिर से बनाए जाएं'BJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीबेल्जियम, पहला देश जिसने मंकीपॉक्स वायरस के लिए अनिवार्य किया क्वारंटाइनएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थिति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.