एम्प्लॉइज को प्रेरित करने के लिए इन तरीकों को अपनाएं

एम्प्लॉइज को प्रेरित करने के लिए इन तरीकों को अपनाएं

Jamil Ahmed Khan | Publish: Aug, 12 2018 11:55:31 AM (IST) एम्प्लॉई कॉर्नर

आज के दौर में फॉर्मल मीटिंग्स के अलावा भी ऐसे बहुत से तरीके हैं जिनके माध्यम से आप अपने एम्प्लॉइज के साथ जुड़ सकते हैं और उन्हें अपने साथ शामिल कर सकते हैं।

आज के दौर में फॉर्मल मीटिंग्स के अलावा भी ऐसे बहुत से तरीके हैं जिनके माध्यम से आप अपने एम्प्लॉइज के साथ जुड़ सकते हैं और उन्हें अपने साथ शामिल कर सकते हैं। एक लीडर होने के नाते आप अपने एम्प्लॉइज को प्रेरित करने और उन्हें कोई मेसेज देने के लिए बहुत सा समय लगाते हैं लेकिन ऐसा करते समय आप अक्सर यह भूल जाते हैं कि आप उन्हें यह देंगे कैसे? इसके लिए फॉर्मल मीटिंग्स करना जरूरी नहीं है। आप अनौपचारिक मीटिंग्स के जरिए भी ऐसा कर सकते हैं। आइए जानते हैं कि आप कैसे उनके साथ जुड़ सकते हैं।

उनसे कुछ शेयर करें
अगर आप अपने एम्प्लॉइज के करीब आना चाहते हैं और उनसे अनौपचारिक तौर पर भी जुडऩा चाहते हैं तो आप उनसे कुछ न कुछ शेयर कर सकते हैं। भले ही वह कोई नई रिसर्च हो या बिजनेस से संबंधित मेसेज या वीडियो। इसके लिए आपको फॉर्मल मीटिंग्स बुलाने की जरूरत नहीं है। आप ईमेल या सोशल मीडिया के जरिए उनके साथ यह शेयर कर सकते हैं। इससे एम्प्लॉइज को अच्छा लगेगा और वह आपके साथ खुलकर खुद के बारे में और अपनी बातों को शेयर कर सकेंगे जो आपको उनके करीब लाने और उन्हें समझने में मदद करेगी।

कॉफी पर बात करें
अगर आप अपने एम्प्लॉइज को बेहतर तरीके से समझना चाहते हैं तो आप उन्हें कॉफी पर बुला सकते हैं और उनसे बात कर सकते हैं। आप यह कॉफी मीटिंग ऑफिस कैंटीन या किसी कैफे में आयोजित करवा सकते हैं। इससे आपके एम्प्लॉइज भी फॉर्मल मीटिंग के माहौल से बाहर आ सकेंगे और थोड़ा आराम कर सकेंगे। इस माहौल में वह आपसे खुलकर बात भी करेंगे और अपनी सही राय आपके सामने रख सकेंगे। कॉफी मीटिंग के वक्त आप एम्प्लॉइज से बॉस के बजाय दोस्त की तरह बात करें तो बेहतर रहेगा। इससे आप उनके साथ खुलकर बात कर सकेंगे।

इंफ्लूएंसर्स से बात करें
इन्फ्लूएंसर्स को टारगेट करना हर स्मार्ट मार्केटिंग स्टे्रटिजी का अहम हिस्सा होता है। एम्प्लॉइज के बारे में सोचते वक्त भी आप इसी अप्रोच का इस्तेमाल कर सकते हैं। हर एम्प्लॉई को जानने और पहचानने से पहले आप उन एम्प्लॉइज के साथ शुरुआत कर सकते हैं जो आपके ऑफिस में बड़ी टीमों को संभाल रहे हैं। यकीनन यह टीम मैनेजर्स अपनी टीम को अच्छी तरह से पहचानते और समझते होंगे। अत: जब आप टीम मैनेजर्स के साथ सहज हो जाएंगे, तब उनकी टीम भी आपके साथ खुद-ब-खुद सहज होगी। इससे आप अपने ऑफिस के सभी एम्प्लॉइज के करीब आते जाएंगे।

लंच पर ले जाएं
अधिकतर एम्प्लॉइज की लंच के लिए कोई न कोई पसंदीदा जगह होती है चाहे वह ऑफिस कैंटीन हो या ऑफिस के पास की कोई जगह, जहां वह अक्सर लंच पर जाते हैं और बातें करते हैं। आप कभी-कभी उन्हें लंच पर जॉइन कर सकते हैं। यह लंच आपको उनके साथ जुडऩे और खुलने का मौका देगा। यहां आप उनके साथ बिना फॉर्मल हुए बात कर सकते हैं। इस तरह के माहौल में आप स्टाफ पर अपना प्रभाव छोड़ सकते हैं और संभव है कि आपके एम्प्लॉइज आपको बिना झिझक अपना फीडबैक दें जो आपको और कंपनी को बेहतर बनाएगा।

आते-जाते बात करें
ऑफिस में बहुत से रास्ते ऐसे होते हैं जहां आप अक्सर अपने एम्प्लॉइज से मिलते रहते हैं। आप इन रास्तों पर भी अपने एम्प्लॉइज के साथ बात कर सकते हैं। आप उन्हें सिर्फ ग्रीट भी कर सकते हैं और उनका हाल-चाल पूछ सकते हैं। इससे एम्प्लॉइज की झिझक खुलेगी और वह आपके साथ खुलकर बात कर सकेंगे। अगर आपके और एम्प्लॉइज के पास वक्त है तो आप उनसे उनके प्रोजेक्ट्स के बारे में पूछ सकते हैं। इससे उन्हें लगेगा कि वह और उनका काम आपके लिए अहमियत रखता है। जब वह यह महसूस करेंगे, तब वह पूरी मेहनत से काम करेंगे।

Ad Block is Banned