बदल रहा है राजस्थानी सिनेमा का अंदाज, जानिए क्या कहते हैं राजस्थानी फिल्मों से जुड़े विशेषज्ञ
santosh trivedi
Publish: Aug, 09 2016 01:53:00 (IST)
बदल रहा है राजस्थानी सिनेमा का अंदाज, जानिए क्या कहते हैं राजस्थानी फिल्मों से जुड़े विशेषज्ञ

पिछले दो साल में राजस्थानी फिल्मों में आया तेजी से बदलाव। अच्छे कंटेंट के साथ फिल्म मेकिंग पर भी हो रहे हैं प्रयोग। राजस्थानी भाषा के साथ हिन्दी में भी होता है संवाद। राजस्थानी सिनेमा में भी बन रहे स्टार, फैन फॉलोइंग के आधार पर बढ़ रहा है फिल्मों का बजट।

समय के साथ अब राजस्थानी फिल्मों का अंदाज भी बदल रहा है। अब राजस्थान की फिल्म इंडस्ट्री भी नए बदलाव की ओर है, जहां फिल्म के कंटेंट के साथ फिल्म मेकिंग में भी प्रयोग हो रहे हैं। यहां तक कि अब ट्रेलर से पहले राजस्थानी फिल्मों के टीजर भी लॉन्च हो रहे हैं, जिसे ऑडियंस से अच्छा रेस्पॉन्स भी मिल रहा है। फिल्म मेकर्स अपनी फिल्मों को सोशल मीडिया पर तेजी से प्रमोट कर रहे हैं। ऑडियंस से इंटरेक्ट करने के साथ ही विभिन्न शहरों में प्रमोशन का अंदाज भी बदला है, जहां फिल्म की स्टार कास्ट किसी बड़े इवेंट में परफॉर्म करती है और साथ ही मीडिया से भी रूबरू होती है। कुछ फिल्म मेकर्स तो राजस्थान के अलावा अन्य राज्यों में जहां प्रवासी राजस्थानी रहते हैं, वहां भी प्रमोशन कर रहे हैं। पिछले दो साल में राजस्थानी फिल्मों का ट्रेंड बदल गया है। राजस्थानी के साथ हिन्दी के संवाद भी मूवी का अहम हिस्सा बनने लगे हैं। इस दौरान यहां के कुछ एक्टर्स राजस्थानी स्टार्स का रुतबा रखने लगे हैं। उसी आधार पर फिल्मों का बजट भी बढ़ाने लगे हैं। बजट बढऩे से फिल्म मेकिंग में प्रोफेशनल प्रयोग हो रहे हैं। 



राजस्थानी फिल्मों से जुड़े विशेषज्ञों की मानें तो महाराष्ट्र, पंजाब और साउथ में रीजनल सिनेमा पहले से ही स्ट्रॉन्ग है। अब गुजराती फिल्म इंडस्ट्री भी तेजी से बढ़ रही है। इससे राजस्थान की उम्मीदें बढ़ गई है। आगामी फिल्म 'पगड़ीÓ के एक्टर श्रवण सागर ने बताया कि यह सितम्बर में रिलीज होगी और हमने अभी इसका टीजर लॉन्च किया है। टीजर को यूट्यूब के साथ सोशल मीडिया पर खूब पसंद किया जा रहा है। 



फिल्म का कंटेंट और फिल्म मेकिंग पर खासा प्रयोग किया गया है, जो बॉलीवुड और साउथ फिल्म इंडस्ट्री में अक्सर देखा जाता है। 'नानी बाई रो मायरो' के डायरेक्टर राजेन्द्र गुप्ता ने कहा कि इस टाइटल से पहले भी फिल्म बन चुकी है, लेकिन इसका कंटेंट ऑडियंस के लिए मॉडर्न लाइफस्टाइल से जुड़ाव करवाने वाला साबित होगा। यह फिल्म मल्टी स्टारर है, जहां राजस्थानी स्टार्स के साथ बॉलीवुड-टीवी एक्टर भी दिखेंगे। इसका प्रमोशन भी बॉलीवुड की तरह प्लान किया गया है। 


ये बनें स्टार

नीलू वाघेला, अरविंद कुमार वाघेला, क्षितिज कुमार, राहुल सूद, श्रवण सागर आदि।



बजट

अब यहां फिल्में 30 लाख से दो करोड़ के बजट में बनने लगी हैं। 



फिल्म मेकिंग

अब राजस्थानी फिल्मों की एडिटिंग मुम्बई के प्रतिष्ठित स्टूडियोज में होती है और म्यूजिक भी वहीं से तैयार होता है।