शाहरुख पर लगा 73 करोड़ की 'फॉरेन करेंसी' के नुकसान का आरोप, ED ने समन भेजकर किंग खान को पेश होने का दिया आदेश
guest user
| Updated: 21 Jul 2017, 11:26:00 AM (IST)
शाहरुख पर लगा 73 करोड़ की 'फॉरेन करेंसी' के नुकसान का आरोप, ED ने समन भेजकर किंग खान को पेश होने का दिया आदेश

बॉलीवुड के किंग खान को वड़ोदरा कोर्ट से अंतरिम राहत मिली है वहीं शाहरुख एक नई मुसीबत में फंस गए है। एन्फोर्समेंट डायरेक्टरेट (ED) ने फेमा (फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट) से जुड़े IPL टी-20 के एक केस में शाहरुख खान को नोटिस भेजा है। जिसमें शाहरुख को 23 जुलाई को उनके सामने पेश होने का आदेश दिया है।

बॉलीवुड के किंग खान यानि शाहरुख खान की मुसीबतें खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। जहां एक और फिल्म 'रईस' के प्रमोशन के दौरान वड़ोदरा रेलवे स्टेशन पर हुई भगदड़ के लिए शाहरुख को कथित तौर पर दोषी माना गया था। जिसमें दिल का दौरा पड़ने से एक शख्स की मौत हो गई थी। इस मामले में वड़ोदरा कोर्ट ने समन भेजकर उन्हें 23 जुलाई को कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया था। इस मामले में अब शाहरुख खान को मुख्य न्यायाधीश आर सुभाष रेड्डी और न्यायाधीश वीएम पंचोली की पीठ ने राहत दी है और वडोदरा कोर्ट के समन पर रोक भी लगा दी है। हाईकोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई की तारीख 25 सितंबर को तय की है।



बॉलीवुड की 'लैला' सनी लियोनी 3 हफ्तों में बनी मां,जानिए क्या रखा है बेटी का नाम,देखें तस्वीरें



जहां इस मामले में शाहरुख खान को अंतरिम राहत मिली है वहीं शाहरुख एक नई मुसीबत में फंस गए है। उन्हें एक अन्य मामले में समन जारी कर कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया गया है। दरअसल एन्फोर्समेंट डायरेक्टरेट (ED) ने फेमा (फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट) से जुड़े IPL टी-20 के एक केस में शाहरुख खान को नोटिस भेजा है। आपको बता दें कि ईडी ने कोलकाता नाइट राइडर्स के मालिक शाहरुख खान को फेमा कानून के उल्लंघन के मामले में समन जारी किया है। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने शाहरुख को 23 जुलाई को उनके सामने पेश होने का आदेश दिया है। अफसरों की मानें तो इस मामले के चलते 73.6 करोड़ रुपए की फॉरेन करंसी का नुकसान हुआ था। 



अलग-अलग रोल कर के अपनी 'गुड बॉय' की छवि को बदलना चाहता हूं : आयुष्मान खुराना



गौरतलब है कि केकेआर का मलिकाना हक रेड चिली इंटरटेनमेंट के पास है। इस कंपनी के सह मालिक शाहरुख और जूही चावला हैं। जूही चावला के पति जय मेहता भी केकेआर के सह मालिक हैं। निदेशालय का आरोप है कि नाइटराइडर्स स्‍पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड, गौरी खान, शाहरुख और जूही चावला ने फेमा के नियमों का उल्‍लंघन किया है। उन्होंने फेमा के नियमों के खिलाफ जाकर भारत से बाहर रहने वाले व्‍यक्ति को शेयर ट्रांसफर किए। ईडी का मानना है कि केकेआर ने 2008 में मॉरीशस की एक कंपनी को अपने शेयर बेचे थे। इस डील में केकेआर के शेयरों की कीमत कम दिखाई गई थी। इन शेयर्स को असल कीमत से आठ-नौ गुना कम दाम पर बेचा गया था।



अजय देवगन ने शेयर किया फिल्म 'तानाजी' का फर्स्ट लुक, शिवाजी महाराज के करीबी बन एक्शन करते आएंगे नजर



इससे पहले भी साल 2015 में भी ईडी ने शाहरुख खान को नाइटराइडर्स स्‍पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड के शेयर्स की बिक्री में अनियमितताओं के आरोप पर पूछताछ के लिए बुलाया था। जांच एजेंसी शाहरुख खान के खिलाफ फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट ऐक्ट (फेमा) उल्लंघन मामले की जांच कर रही है। अगर वे दोषी पाए जाते हैं तो उन पर असल नुकसान का तीन गुना जुर्माना लग सकता है। इस पूरे मामले में अब शाहरुख को 23 जुलाई को प्रवर्तन निदेशालय (ED) के सामने पेश होना होगा।


Show More