Pakistani Actress का जुड़ा DA से नाम, तो कश्मीर राग अलापने लगीं, जानें क्या कहा

By: पवन राणा
| Published: 26 Aug 2020, 11:24 PM IST
Pakistani Actress का जुड़ा DA से नाम, तो कश्मीर राग अलापने लगीं, जानें क्या कहा
पाकिस्तानी एक्ट्रेस का नाम जुड़ा दाउद इब्राहिम से, फिल्में और पुरस्कार दिलवाने का लगा आरोप,पाकिस्तानी एक्ट्रेस का नाम जुड़ा दाउद इब्राहिम से, फिल्में और पुरस्कार दिलवाने का लगा आरोप,पाकिस्तानी एक्ट्रेस का नाम जुड़ा दाउद इब्राहिम से, फिल्में और पुरस्कार दिलवाने का लगा आरोप

37 वर्षीय अभिनेत्री को ट्विटर पर 14 लाख से अधिक लोग फॉलो करते हैं और उनकी तस्वीरें ट्विटर पर वायरल हो रही हैं। अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम ( Dawood Ibrahim ) की कथित परिचित के लिए हयात को ट्रोल किए जाने के साथ ही कुछ कठोर टिप्पणियों भी वायरल हुई हैं। ट्विटर पर ट्रोल किए जाने पर हयात ( Mehwish Hayat ) ने कहा कि यह उनके खिलाफ एक साजिश है, जो उनके नाम और शोहरत से ईर्ष्या करते हैं, यह उनका काम है।

मुंबई। पाकिस्तान की प्रमुख फिल्म अभिनेत्री ( Pakistani Actress ) और कराची फिल्म उद्योग में ग्लैमर गर्ल के नाम सेे पॉपुलर मेहविश हयात ( Mehwish Hayat ) को सोशल मीडिया पर ट्रोल किया जा रहा है। उनका नाम भारत के सबसे वांछित भगोड़े दाऊद इब्राहिम ( Dawood Ibrahim ) के साथ जोड़ा गया है। पाकिस्तान के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक 'तमगा-ए-इम्तियाज' से सम्मानित कराची की रहने वाली अभिनेत्री को दाऊद इब्राहिम का करीबी बताया जा रहा है, जो कथित तौर पर पाकिस्तानी फिल्मों को फंड करता है और हयात को फिल्में दिलवाने में भी सहायता करता है।

37 वर्षीय अभिनेत्री को ट्विटर पर 14 लाख से अधिक लोग फॉलो करते हैं और उनकी तस्वीरें ट्विटर पर वायरल हो रही हैं। अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की कथित परिचित के लिए हयात को ट्रोल किए जाने के साथ ही कुछ कठोर टिप्पणियों भी वायरल हुई हैं। ट्विटर पर ट्रोल किए जाने पर हयात ने कहा कि यह उनके खिलाफ एक साजिश है, जो उनके नाम और शोहरत से ईर्ष्या करते हैं, यह उनका काम है। हयात के करीबी सूत्रों ने दावा किया कि उनका माफिया या आपराधिक गिरोहों से कोई संबंध नहीं है। एक्ट्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा,' मैं भारत के कुछ मीडिया की ओर से लगाए निराधार आरोपों को नहीं मानती। मैं जानती हूं उनका एजेंडा क्या है और वे ऐसा क्यों कर रहे हैं। मैं कश्मीर के बारे में बोलती रहूंगी और बॉलीवुड की हाइपोक्रेसी सामने लाती रहूंगी।'

भारत के एक प्रमुख हिंदी न्यूज चैनल ने भी इस मामले में हयात के दाऊद इब्राहिम के साथ कथित संबंधों को लेकर खबरें दी हैं। अभिनेत्री के साथ संबंधों को उजागर करने के बाद 80 और 90 के दशक में कुछ बॉलीवुड नायिकाओं के साथ डॉन के अफेयर की पुरानी यादें भी फिर से ताजा हुई हैं।

केवल दाऊद इब्राहिम ही ऐसे नहीं है, जिनका नाता फिल्म उद्योग से रहा है। सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान सहित कई प्रमुख क्रिकेटर उर्दू फिल्म उद्योग की ग्लैमर गर्ल के करीब हैं। पिछले साल, जब हयात को तमगा-ए-इम्तियाज से सम्मानित किया गया था, तो सोशल मीडिया पर ऐसी खूब टिप्पणी की गई कि उन्हें कराची में सबसे शक्तिशाली लोगों के साथ करीबी संबंधों के आधार पर पुरस्कार मिला है। एक प्रमुख वेबसाइट ने भी दाऊद इब्राहिम के साथ उनकी निकटता के बारे में संकेत दिया था। पाकिस्तानी अभिनेत्री ने उस समय सुर्खियां बटोरीं जब उनकी हाल की दो फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर रिकॉर्ड तोड़ दिए। इससे पहले 2017 में, उनकी फिल्म 'पंजाब नहीं जाऊंगी' ने लोगों का दिल जीत लिया था।

अपने लुक के लिए जानी जाने वाली हयात पाकिस्तान की एक टॉप सिंगिंग स्टार भी हैं और अक्सर कुछ जानी-मानी हस्तियों को होस्ट करती हैं, जिनमें क्रिकेटर्स, राजनेता और उद्योगपति शामिल हैं। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि हयात ने एक पाकिस्तानी फिल्म में आइटम नंबर करने के बाद शोहरत हासिल की। वह दाऊद इब्राहिम के संपर्क में आई, जिसने पाकिस्तानी फिल्म उद्योग में अपने दबदबे का इस्तेमाल किया और उन्हें कुछ उच्च बजट की फिल्में मिलीं। दाऊद (64), जो कुख्यात डी-कंपनी का नेतृत्व करता है, कथित तौर पर स्थानीय फिल्म उद्योग को फंड करता है और कराची और लाहौर में शीर्ष निर्माताओं और निर्देशकों के साथ अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

इस बीच, कई भारतीयों ने उन्हें ट्विटर पर यह कहते हुए खूब लताड़ा कि हयात एक डॉन की करीबी हैं, जिस पर 1993 के मुंबई सीरियल बम धमाकों में कई सैकड़ों निर्दोष लोगों की हत्या का आरोप है। लोगों ने हयात को सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक के साथ पाकिस्तान सरकार के फैसले पर भी सवाल उठाया, जो पहले दिग्गज गायक नूरजहां जैसे अन्य लोगों को दिया गया था। कराची के एक व्यक्ति ने अभिनेत्री पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उन्हें यह पुरस्कार मिलने तक कोई जानता तक नहीं था।