'कट' बोलने के बाद भी सोनाली-युवराज के बाथ सीन में हुई ये शर्मिंदगी की बात, डायरेक्टर को कान में जाकर बोलना पड़ा 'कट'
guest user
| Updated: 25 May 2017, 10:23:00 AM (IST)
'कट' बोलने के बाद भी सोनाली-युवराज के बाथ सीन में हुई ये शर्मिंदगी की बात, डायरेक्टर को कान में जाकर बोलना पड़ा 'कट'

सोनाली राउत और अभिनेता युवराज पराशर इन दिनों जीनत अमान की वेब सीरिज 'लव लाइफ एंड स्क्रू अप' की शूटिंग में व्यस्त है। इस वेब सीरिज के लिए एक इंटिमेट सीन शूट किया जाना था। जैसे ही शॉवर ऑन हुआ और शूट शुरु किया गया, सोनाली और युवराज एक-दूसरे से ऐसे चिपके कि निर्देशक के कट बोलने के बाद भी अलग नहीं हुए।

'बिग बॉस' फेम मॉडल सोनाली राउत और अभिनेता युवराज पराशर इन दिनों जीनत अमान की वेब सीरिज 'लव लाइफ एंड स्क्रू अप' की शूटिंग में व्यस्त है। इस वेब सीरिज के लिए एक इंटिमेट सीन शूट किया जाना था, जिसे लेकर दोनों ही कलाकार असहज महसूस कर रहे थे लेकिन डायरेक्टर के समझाने पर और वेब सीरिज की मांग पर दोनों इस सीन को करने के लिए तैयार हो गए। एक बार दोनों ने इस सीन को करना शुरु किया तो वह इसमें इस कदर खो गए कि डायरेक्टर के कट बोलने पर भी नहीं रुके।


उदयपुर का BOND कनेक्शन: 'ऑक्टोपसी' से हॉलीवुड में मिली थी उदयपुर को प्रसिद्धि, मूर की भूमिका बनी यादगार


कई बार ऐसा होता है कि हॉट और बोल्ड सीन करते वक्त एक्टर-एक्टर्स खुद पर काबू नहीं रख पाते और सीन में इस कदर खो जाते है कि उन्हें कुछ होश ही नहीं रहता। कई बार तो उन्हें यह भी नहीं पता चलता कि डायरेक्टर ने कब कट बोल दिया। ऐसा ही कुछ सोनाली और युवराज के साथ भी हुआ। पहले इंटिमेट सीन को करने से झिझक रहे दोनों एक्टर्स सीन में इतना खो गए कि इनका नहाने का एक सीन इतना लंबा चल गया कि उन्हें पता ही नही चला कि डायरेक्टर ने कब कट बोल दिया लेकिन सोनाली और युवराज ने सुना ही नहीं और सीन करते रहे। 


'दीया और बाती हम' की संध्या बींदणी के घर आया नन्हा मेहमान, दीपिका सिंह बनी एक बेटे की मां


सोनाली और युवराज ने डायरेक्टर की समझाइश के बाद इस सीन को किया लेकिन उन्होंने डायरेक्टर से कहा कि वो एक ही टेक में इस सीन को शूट करें। निर्देशक कपिल शर्मा इस बात को मान गए और कहा कि जब तक वो कट ना बोले शूट को चलने दें। पर जैसे ही शॉवर ऑन हुआ और शूट शुरु किया गया, सोनाली और युवराज एक-दूसरे से ऐसे चिपके कि निर्देशक के कट बोलने के बाद भी अलग नहीं हुए। डायरेक्टर ने भी सीन को चलने दिया क्योंकि उसे वहीं परफेक्स शॉट  मिल रहे था जो उन्हें चाहिए थे।



स्वामी ओम को मुख्य अतिथि बन 'नाथूराम गोडसे' की जयंती में जाना पड़ा भारी, गुस्साए लोगों ने जमकर की पिटाई



जब निर्देशक का काम पूरा हो गया तब उन्होंने सोनाली और युवराज के कान के पास जाकर धीरे से फिर से कट बोला। जैसे ही सोनाली और युवराज को एहसास हुआ  तो उन्हें समझ आ गया कि यहां क्या हुआ और दोनों एकदम से शर्मा गए। इस तरह के डेडीकेशन की लोग कभी तारीफ भी करते हैं लेकिन कई बार इतना ज्यादा डेडीकेशन शर्मिंदगी का कारण बनता है। सोनाली और युवराज दोनों को भी बाद में बहुत शर्मिंदगी हुई हालांकि वो इस बात से खुश थे कि जो शॉट डायरेक्टर को चाहिए था वह उन्हें मिल गया।


Show More