'इंदू सरकार' की रिलीज डेट पर लटकी तलवार हटी,सुप्रीम कोर्ट ने दी मधुर भंडारकर की फिल्म को हरी झंडी
guest user
| Updated: 27 Jul 2017, 01:47:00 PM (IST)
'इंदू सरकार' की रिलीज डेट पर लटकी तलवार हटी,सुप्रीम कोर्ट ने दी मधुर भंडारकर की फिल्म को हरी झंडी

मधुर भंडारकर और आपातकाल पर बनी इस फिल्म का इंतजार कर रहे सभी लोगों के लिए अच्छी खबर है। सुप्रीम कोर्ट ने 'इंदु सरकार' फिल्‍म की रिलीज रोकने के लिए दायर की गई याचिका को खारिज कर दिया है और यह फिल्‍म अब अपने तय समय यानि कल (28 जुलाई) को ही रिलीज होने वाली है।

मधुर भंडारकार की फिल्‍म 'इंदु सरकार' की रिलीज डेट पर लटकी तलवार आखिरकार हट चुकी हैं। सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म की रिलीज को हरी झंडी दे दी है। सुप्रीम कोर्ट ने इस फिल्‍म की रिलीज रोकने के लिए दायर की गई याचिका को खारिज कर दिया है और यह फिल्‍म अब अपने तय समय यानि कल (28 जुलाई) को ही रिलीज होने वाली है। जी हां, यह खबर मधुर भंडारकर और आपातकाल पर बनी इस फिल्म का इंतजार कर रहे सभी लोगों के लिए अच्छी खबर है। 



अजान विवाद:सुचित्रा कृष्णमूर्ति को ट्विटर पर मिली रेप की धमकी,साइबर सेल में दर्ज कराई शिकायत



सर्वोच्च न्यायालय ने गुरुवार को फिल्मकार मधुर भंडारकर की फिल्म 'इंदु सरकारट की रिलीज पर रोक लगाने से इंकार कर दिया। फिल्म पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा 1975 में लगाए गए आपातकाल पर आधारित है। न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति अमिताव राय और न्यायमूर्ति ए.एम. खानविल्कर की सदस्यता वाली पीठ ने एक महिला द्वारा इस संबंध में दायर की गई याचिका खारिज कर दी। महिला ने कांग्रेस नेता संजय गांधी की जैविक बेटी होने का दावा किया है।



संजय लीला भंसाली की फिल्म में इस मशहूर शायर के रोल में नजर आएंगे अभिषेक बच्चन,12 किलो तक घटाएंगे वजन



पीठ ने प्रिया सिंह पॉल की याचिका खारिज करते हुए कहा, ''फिल्म कानून के मापदंडों के भीतर एक कलात्मक अभिव्यक्ति है।" पॉल ने अदालत को बताया कि फिल्म 'मनगढ़ंत कहानी से भरपूर है और पूरी तरह अपमानजनक है'। याचिकाकर्ता ने कहा कि इससे संजय गांधी और उनकी मां इंदिरा गांधी की छवि खराब होगी। याचिकाकर्ता ने बम्बई उच्च न्यायालय द्वारा 24 जुलाई को याचिका खारिज कर दिए जाने के बाद शीर्ष न्यायालय में गुहार लगाई थी।



करण जौहर ने रिलीज किया फिल्म 'ड्राइव' का पहला पोस्टर,जानें कब जाएंगे सुशांत..जैकलीन को लेकर ड्राइव पर



अदालत ने याचिका खारिज करते हुए कहा था कि संजय गांधी के किसी भी 'ज्ञात वंशज' ने फिल्म पर आपत्ति नहीं जताई। महिला ने अपनी याचिका में दावा किया था कि संजय गांधी उनके जैविक पिता हैं और फिल्म में उन पर उंगलियां उठाई गई हैं। अदालत ने कहा था, 'फिल्म निर्माता ने बताया है कि फिल्म से पहले एक डिस्कलेमर चलेगा जिसमें कहा गया है कि फिल्म के सभी पात्र व घटनाएं काल्पनिक हैं और इनका किसी जीवित या मृत व्यक्ति से कोई संबंध नहीं है। तो वहीं सेंसर बोर्ड फिल्म के कुछ दृश्यों में कट के साथ पहले ही फिल्म को सर्टिफिकेट दे चुका है।


Show More