मामूली विवाद में दारोगा ने बीएसएफ जवान को चौकी में जूते से पीटा

Santosh Pandey

Publish: Oct, 13 2017 03:29:10 (IST) | Updated: Oct, 13 2017 03:30:13 (IST)

Etah, Uttar Pradesh, India
मामूली विवाद में दारोगा ने बीएसएफ जवान को चौकी में जूते से पीटा

भाई की दुकान पर हुआ था विवाद, जवान पहुंचा तो पुलिस उठा ले गई उसे

एटा। एक बीएसएफ जवान को बीच सड़क पर दारोगा ने गाली दी इतना ही नहीं उसे थाने में ले जाकर जूतों से पीटा। बीएसएफ जवान पर मुकदमा दर्ज कर के जेल भेज दिया गया है। जवान कुछ दिनों की छुट्टी पर आया था। उसकी छुट्टी भी एक दिन में खत्म होने वाली है। परिजनों ने कहा कि उसके बेटे को छोड़ दिया जाए। उसे बेवजह फंसाया जा रहा है। वहीं एसएसपी ने बताया कि बीएसएफ जवान ने पुलिस से लड़ाई की और लोगों को बुलाकर मामले को झगड़े में बदला। एसएसपी ने बताया कि जवान का भाई दुकान पर शराब पिलाता है। आए दिन उसकी शिकायत पुलिस को मिल रही थी। जिसपर पुलिस ने कार्रवाई की है।
मांग रहे थे हफ्ता

बीएसएफ जवान असलम की मां शमीम ने मीडिया को बताया कि उसके पति से पुलिस वाले आए दिन दुकान चलाने के लिए हफ्ता मांग रहे थे। परिवार में संख्या अधिक है जिससे हम पैसा दे नहीं पा रहे थे। उसी बात को लेकर आए दिन परेशान किया जा रहा था। जब यह बात बेटे को बताई गई तो वह दुकान पर गया। वहां पुलिस से विवाद हो गया।

बताने पर भी नहीं मिली छूट

सिपाही असलम बीएसएफ में भारत बांग्लादेश की सीमा पर तैनात है। वह छुट्टी पर था। उसने बताया कि उसके भाई के साथ दुकान पर पुलिस वाले झगड़े कर रहे थे वह सूचना पाया तो गया। वहीं पर उसने पुलिस को अपना परिचय दिया। दारोगा ने एक न सुनी और उसकी पिटाई कर दी। असलम ने बताया कि उसे चौकी लाकर दारोगा ने जूते निकालकर खूब पीटा। उसपर दबाव भी बनाया गलत बयान देने का। उसी समय असलम ने जिले के डीएम को फोन किया। उसने बताया कि डीएम ने उसे धमकी दी कि नौकरी से बाहर करा दूंगा। उसका पूरा परिवार सदमें है।

होगी जांच

एटा एसएसपी अखिलेश कुमार चौरसिया ने बताया कि इस मामले की जांच हो रही है। अभी तो बीएसएफ के जवान का दोष है। उसने बीच सड़क पर पुलिस वालों से बदतमीजी की और गाली दी। गलत काम करने वाले छोड़े नहीं जाएंगे। इस मामले की जांच बैठा दी गई है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned