दो महिला बीडीसी सदस्यों को उठा ले गए हमलावर, सपा समर्थकों पर लगा आरोप

दो महिला बीडीसी सदस्यों को उठा ले गए हमलावर, सपा समर्थकों पर लगा आरोप

Mukesh Kumar | Publish: Jan, 13 2018 08:47:16 PM (IST) Etah, Uttar Pradesh, India

सपा ब्लॉक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग से पहले दो महिला बीडीसी सदस्यों को कुछ हमलावर उठा ले गए।

एटा। जिले में जलेसर ब्लॉक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग से पहले दो महिला बीडीसी सदस्यों को कुछ हमलावर उठा ले गए। इसमें एक महिला गर्भवती है। दोनों महिलाएं अपने परिजनों के साथ जा रही थीं। परिजनों ने आरोप लगाया है कि वर्तमान सपा ब्लॉक प्रमुख शशि यादव के समर्थकों ने उन पर हमला कर दिया और बीडीसी सदस्यों को जबरन बोलेरो कार में डालकर फरार हो गए। उन्होंने एसएसपी से मामले की शिकायत कर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।


22 जनवरी को होनी है वोटिंग
जलेसर ब्लॉक प्रमुख शशि यादव के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी के कुलदीप सिसौदिया ने अविश्वास प्रस्ताव दाखिल किया है। इसके लिए 22 जनवरी को वोटिंग होनी है। शनिवार को कुलदीप सिसौदिया के साथ दोनों महिला बीडीसी सदस्यों के परिजन एसएसपी ऑफिस पहुंचे और मामले की शिकायत की। कुलदीप का कहना है कि जलसेल थाना पुलिस ने शिकायत के बाद भी आरोपियों के खिलाफ ठोस कदम नहीं उठाया। इसलिए वे लोग यहां आए हैं।


सुरेंद्र यादव पर लगा आरोप
गांव पसियापुर के रहने वाले प्रदीप ने बताया कि उसकी पत्नी संगीता जलेसर ब्लॉक के वार्ड संख्या 13 से क्षेत्र पंचायत सदस्य है। वो भाजपा के कुलदीप का समर्थन कर रही हैं। संगीता गर्भवती है। प्रदीप का आरोप है कि 11 जनवरी को वो अपनी पत्नी को दवा दिलाने जलेसर जा रहा था। तभी रास्ते में सुरेंद्र यादव ने अपने साथियों के साथ उन पर हमला बोल दिया। उनके साथ मारपीट की। जिसके बाद उसकी पत्नी को जबरन गाड़ी में डाल ले गए।


बीडीसी मेंबर को जबरन साथ ले गए
कुलदीप सिसौदिया के साथ आए गांव नगला गिरधारी निवासी औसान सिंह ने सपा समर्थकों पर अपहरण और मारपीट का आरोप लगाया है। औसान सिंह की भाभी मुन्नी देवी पत्नी हरी सिंह ब्लॉक के वार्ड संख्या 44 से क्षेत्र पंचायत सदस्य है। उसका आरोप है कि वो अपनी भाभी को लेकर जलेसर जा रहा था। तभी कुछ लोगों ने उस पर हमला कर दिया और वे मुन्नी देवी को जबरन गाड़ी में डालकर ले गए, जिसका अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है।


जांच के बाद होगी कार्रवाई
एएसपी क्राइम ओपी सिंह ने बताया कि कुलदीप सिसौदिया के साथ कुछ लोग आए थे। उनका आरोप है कि सुरेंद्र यादव ने अपने साथियों के साथ दो महिलाओं के साथ मारपीट की और कार में जबरन डालकर ले गए। मामले में सीओ और इंस्पेक्ट जलेसर को मौके पर भेजा गया। जांच के बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

Ad Block is Banned