Illegal Liquor: यूपी पुलिस ने फिर पकड़ी हरियाणा से लखनऊ ले जाई जा रही 60 लाख की अंग्रेजी शराब, देखें वीडियो

suchita mishra | Updated: 11 Jul 2019, 11:17:23 AM (IST) Etah, Etah, Uttar Pradesh, India

-दो ट्रकों में भरकर ले जाई जा रही थी अवैध अंग्रेजी शराब
-मुखबिर की सटीक सूचना पर पुलिस को मिली सफलता
-शराब का सिंडिकेट तोड़ने का प्रयास कर रही है एटा पुलिस

एटा। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) स्विप्नल ममगाई के निर्देशन में एटा पुलिस ने जनपद में दो अलग-अलग थानों से लगभग 60 लाख की अवैध शराब बरामद (Illegal wine) की है। चार शराब तस्करों (Liquor smugglers) को गिरफ्तार किया है। यह शराब हरियाणा से तस्करी कर लाई जा रही थी। मौके से दो शराब तस्कर फरार होने में सफल हो गए। थाना कोतवाली देहात और थाना निधौलीकलां क्षेत्रों में पुलिस और स्वाट टीम ने संयुक्त कार्रवाई में यह सफलता मिली है।

यह भी पढ़ें: crime in UP: प्रेमी की हत्या के बाद बाप और मामा ने युवती को मारी गोली, मरा समझकर झाड़ियों में फेंक गए...

ट्रक में बना रखे थे बॉक्स
कोतवाली देहात पुलिस ने ट्रक में तस्करी कर लाई जा रही करीब 360 पेटी अवैध अंग्रेजी शराब बरामद की। थाना निधौलीकलां पुलिस और स्वाट टीम ने दूसरे ट्रक में लदी की 285 पेटी अवैध अंग्रेजी शराब (English wine) बरामद की है। कीमत करीब 60 लाख रुपये आंकी गई है। ये शातिर शराब तस्कर ट्रक में बॉक्स बनाकर लाखों की शराब इधर से उधर कर देते थे। ट्रक में ऊपर कांच की बोतल और नीचे बने बॉक्स में अवैध शराब की मुखबिर की सटीक सूचना पर इन तस्करों की चालाकी धरी की धरी रह गई। शराब लखनऊ ले जाई रही थी।

यह भी पढ़ें: दबिश देने पहुंची पुलिस ने महिला और बच्चों को पीटा, घर में की तोड़फोड़, जानिए पूरा मामला!

शराब का सिंडिकेट तोड़ेंगे
सहायक पुलिस अधीक्षक संजय कुमार ने बताया कि पुलिस की कार्रवाई से शराब माफियाओं में हड़कंप मच गया। गिरफ्तार किये गये शराब तस्करों से पूछताछ कर अवैध शराब के सिंडिकेट से जुड़े अन्य लोगों की तलाश में जुटए गए हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned