BIG NEWS दहेज उत्पीड़न की शिकायत पर पहुंचे पुलिसकर्मियों को लाठी-डंडों से दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

Amit Sharma | Publish: Nov, 10 2018 06:28:34 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 07:21:05 PM (IST) Etah, Uttar Pradesh, India

पुलिसकर्मी दहेज उत्पीड़न की शिकायत पर पहुंचे थे, ग्रामीणों ने उन्हें दौड़ा लिया। लाठी डंडों से जमकर पिटाई लगाई।

एटा। दहेज उत्पीड़न की शिकायत पर जांच करने पहुंची पुलिस टीम पर आरोपियों और ग्रामीणों ने हमला बोल दिया। लाठी-डंडों से जमकर पिटाई कर दी। दारोगा समेत तीन पुलिसकर्मी गंभीर रुप से घायल हो गये। घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गये। पुलिस टीम पर लाठी-डंडों से हमले के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गयी और मौके पर पहुंची कई थानों के पुलिस फोर्स ने घायल पुलिसकर्मियों को वहां से निकालकर अलीगंज सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र में भर्ती कराया जहां उनका उपचार चल रहा है।

पुलिस को नहीं मिला संभलने का मौका

बताया जा रहा है कि थाना जसरथपुर में फर्रुखाबाद के थाना मेरापुर निवासी दिनेश कुमार ने नगला जई निवासी नरेंद्र द्वारा उसकी बेटी को दहेज के लिए परेशान करने की शिकायत की। उत्पीड़न को लेकर पति नरेन्द्र समेत पांच ससुरालीजनों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था जिसकी जांच के लिए थाना जसरथपुर से दारोगा सुरेश सिंह सिपाही विजय सिंह, सिपाही हरेन्द्र कुमार और एक होमगार्ड को लेकर मामले की जांच के लिए जब कल देर रात्रि आरोपी के घर पहुंची तो पुलिस टीम को देखते ही पहले से ही लाठी-डंडों से लैस आरोपियों और ग्रामीणों ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया और उनकी जमकर पिटाई कर दी।

दो आरोपी गिरफ्तार

हमले से पहले पुलिस टीम संभल पाती तब तक आरोपी मौके से फरार हो गये। पुलिस टीम पर हमले की सूचना मिलते ही पुलिस के आला अधिकारियों के होश उड़ गये और आनन फानन में कई थानों का फोर्स मौके पर पहुंचा और गंभीर रुप से घायल दारोगा समेत तीन पुलिसकर्मियों को उपचार के लिए अलीगंज के सीएचसी में भर्ती कराया गया। वहीं पुलिस ने डेढ़ दर्जन से ज्यादा आरोपियों के खिलाफ सरकारी काम में बाधा डालने और पुलिस टीम पर हमला करने का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने घटना में शामिल दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि मुख्य आरोपी नरेन्द्र अभी भी फरार है।

Ad Block is Banned