चुनाव से ठीक पहले इस भाजपा प्रत्याशी ने कर दिया बड़ा अपराध, अंजाम देकर फरार हुआ मौका-ए-वारदात से, मामला दर्ज

बुधवार को भाजपा उम्मीदवार की गुंडई देखने को मिली.

By: Abhishek Gupta

Published: 10 Apr 2019, 06:07 PM IST

इटावा. इटावा में बुधवार को भाजपा उम्मीदवार डा.रामशंकर कठेरिया की गुंडई देखने को मिली। अपने समर्थकों के साथ जिले के पर्थरा स्थित रामजानकी मंदिर परिसर में बिना अनुमति सभा करने के लिए रोके जाने पर कठेरिया ने दरोगा की जमकर पिटाई कर दी। यही नहीं वे दरोगा का मोबाइल और अन्य सामान लेकर मौके से फरार हो गए। मामले की जानकारी होने पर अपर पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन व दरोगा की पिटाई करने पर भाजपा उम्मीदवार डा. राम शंकर कठेरिया व उनके अन्य समर्थकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया है। चुनाव आयोग को भी इस पूरे मामले से अवगत करा दिया गया है। वहीं पुलिस इन सबकी तलाश में जुट गई है।

पुलिस ने दिया यह बयान-

इटावा अपर पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने मौके-ए-वारदात पर कहा कि ऐसा बताया गया है कि बिना अनुमति भारतीय जनता पार्टी की सभा को इटावा संसदीय क्षेत्र के उम्मीदवार डॉ राम शंकर कठेरिया संबोधित कर रहे थे। जब इस बात की जानकारी भरेह थाना पुलिस को हुई तो दरोगा गीतम पाल को अन्य पुलिस बल के साथ सभा को रोकने के लिए भेजा गया, जिस पर दरोगा को डा. राम शंकर कठेरिया ने जमकर पीटा और मोबाइल आदि लूटकर वो समर्थकों के साथ फरार हो गए। वारदात के वक्त भरथना संसदीय क्षेत्र की भारतीय जनता पार्टी की एमएलए सावित्री कठेरिया ही मौके पर रही मौजूद।

 

विपक्ष ने साधा निशाना-

उधर समाजवादी पार्टी-बसपा गठबंधन के उम्मीदवार कमलेश कठेरिया ने भाजपा उम्मीदवार की इस गुंडागर्दी पर पुलिस प्रशासन से उन्हें समर्थको समेत गिरफतार करने की मांग की है। उनका कहना है कि चुनाव आयोग को भी भाजपा उम्मीदवार के खिलाफ अपने स्तर पर कार्यवाही के लिए पुलिस प्रशासन को निर्देशित किया जाना चाहिए। कांग्रेस उम्मीदवार अशोक दोहरे का कहना है कि भाजपा इटावा संसदीय सीट पर बुरी तरह से पराजित हो रही है। इसलिए भाजपा उम्मीदवार ऐसे कारनामे कर रहे हैं, ताकि उनके पक्ष में हवा बन जाये, लेकिन वो यह भूल जाते है कि इस तरह के मामलों से जनमत बढ़ता नहीं बल्कि जमीदोज हो जाता है। उन्होंने बिना अनुमति सभा करने और दरोगा को पीटे जाने के आरोपी डा.कठेरिया को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की है। समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष गोपाल यादव का कहना है कि पूरे प्रकरण को तत्काल प्रभाव से चुनाव आयोग को अपने संज्ञान मे लेकर वैधानिक कार्यवाही अमल मे लानी चाहिए।

Congress
Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned