अर्थदंड जमा न करने के कारण कैदी नहीं हो पाया था जेल से रिहा, भाजपा नेता ने की मदद

सर्वपल्ली डा. राधाकृष्ण के जन्मदिन पर जिला जेल से एक सिद्धदोष बंदी को रिहा किया गया।

By: Abhishek Gupta

Published: 05 Sep 2019, 07:41 PM IST

इटावा. सर्वपल्ली डा. राधाकृष्ण के जन्मदिन पर जिला जेल से एक सिद्धदोष बंदी को रिहा किया गया। यह बंदी सजा पूरी होने के बाद भी अर्थदंड जमा न होने के कारण जेल में था। इटावा जेल अधीक्षक राजकिशोर सिंह ने गुरुवार को यहॉ बताया कि बंदी को उसके घर तक छोड़ने के लिए जेल से एक सिपाही को भी साथ में भेजा गया था। उन्होंने बताया कि जेल में सिर्फ एक ही बंदी था। जो अर्थदंड जमा न होने के चलते रिहा नहीं हो पा रहा था।

प्रदेश सरकार ने जेलों में निरूद्ध ऐसे सिद्धदोष बंदी जो केवल अर्थदंड के चक्कर में सजा काट रहे थे। उन्हें छोड़ने के निर्देश दिए थे। भाजपा नेता रामशरण गुप्ता ने एक बंदी का अर्थदंड जमा किया। इसके बाद उसे जेल से रिहा किया गया। जेल में औरेया जिले के थाना बेला के गांव औरो का रहने वाला अरविंद (40) 7 जुलाई 2011 को धारा 307 व आर्म्स एक्ट में जेल में बंद किया गया था। उसे वर्ष 2014 में सजा हुई थी। 21 अगस्त को अरविंद की 13 वर्ष की सजा पूरी हो गई थी, लेकिन 10 हजार 600 रूपए का अर्थदंड जमा न होने के कारण वह सजा पूरी होने के बाद भी जेल में बंद था।

विधायक पहुंचे जिला कारागार-

डा. राधाकृष्ण के जन्मदिन पर सदर विधायक सरिता भदौरिया, भाजपा नेता रामकृष्ण गुप्ता, विकास भदौरिया, जितेन्द्र जैन हैप्पी व अन्य नेताओं के साथ जेल में पहुंची थी। जहां पर सभी ने महिला बंदियों के साथ रहने वाले बच्चों को कपड़े, स्कूल बैग, कॉपी, किताबें, फल व अन्य सामान वितरित किया। सामान पाकर बच्चे खुशी से झूम उठे। वहीं अर्थदंड के चक्कर में सजा पूरी होने के बाद जेल में बंद अरविंद का अर्थदंड भी जमा किया। इसके बाद जेल प्रशासन ने सिद्धदोष बंदी को रिहा किया गया। इस मौके पर जेलर रामकुबेर सिंह, डिप्टी जेलर जगदीश प्रसाद भी मौजूद रहे।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned