इटावाः श्रद्धालुओं से भरी डीसीएम पलटी, 11 की मौत, 40 घायल, सीएम योगी ने मुआवजे का किया ऐलान

दर्दनाक हादसे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने शोक व्यक्त करते हुए प्रत्येक मृतक के आश्रितों को 2-2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है।

By: Abhishek Gupta

Published: 10 Apr 2021, 07:46 PM IST

दिनेश शाक्य.
इटावा. इटावा में दर्दनाक सड़क हादसा (Etawah Road Accident) हो गया। जिले में बढ़पुरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत मिहौली मोड़ के पास श्रद्धालुओं से भरी डीसीएम 25 फीट गहरी खाई में गिर गई, जिसमें 11 श्रद्धालुओं की मौत हो गई है, करीब 41 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। दर्दनाक हादसे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने शोक व्यक्त करते हुए प्रत्येक मृतक के आश्रितों को 2-2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है।

ये भी पढ़ें- सेल्फी लेने के दौरान सड़क हादसा, वाराणसी सहायक नगर आयुक्त की मौत

पुत्र के लिए मांगी थी मन्नत-

आगरा के ग्राम पिनाहट से एक ही वर्ग के लोग डीसीएम से इटावा के लखना कालका मंदिर पर झंडा चढ़ाने जा रहे थे। विरेंद्र सिंह पुत्र बैजनाथ बघेल के पुत्र के लिए मांगी गई मन्नत के अनुसार वह सभी शनिवार को बकेबर थाना क्षेत्र की लखना स्थित कालका देवी मंदिर पर झंडा (नेजा) चढ़ाने जा रहे थे। इस में करीब पचास से अधिक लोग सवार थे, जिसमें 20 महिलाएं भी शामिल थीं। 11 श्रद्धालुओं की मौत घटनास्थल पर हो गई और एक घायल महिला की मौत उपचार के दौरान जिला अस्पताल में हुई है। कहा जा रहा है कि डीसीएम का चालक बेहिसाब शराब पिए हुए था और इसी वजह से यह दर्दनाक हादसा हो गया।

ये भी पढ़ें- सोनभद्र की अनपरा लैंको परियोजना में बड़ा हादसा, ब्वॉयलर गिरा, 20 घायल, 16 मज़दूर निकाले गए

बचाव कार्य हुआ शुरू-

घटना की जानकारी मिलते ही डीएम, एसएसपी, सहित आलाधिकारी मौके पर पहुंचे। घटना स्थल पर ग्रामीणों और पुलिस के जवानों के सहयोग से घायलों को मुख्यालय के डॉक्टर भीमराव अंबेडकर राजकीय संयुक्त चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। एसएसपी ब्रजेश सिंह समेत आला अधिकारियों ने मौके पर पहुंच कर स्तिथि का जायजा लिया। घायलों की बड़ी संख्या से जिला चिकित्सालय में भी हड़कम्प मच गया है। मामले की गंभीरता देखते हुए जिला चिकित्सालय में डीएम श्रुति सिंह, एसएसपी ब्रजेश सिंह, सीएमओ एनएस तोमर, एसपी सिटी प्रशान्त कुमार, एसडीएम सदर सिद्धार्थ, सीओ सिटी राजीव कुमार समेत कई इंस्पेक्टर और दरोगा समेत कई थानों का पुलिस बल मौजूद है।

जिलाधिकारी ने दिया बयान-

मामले पर जिलाधिकारी श्रुति सिंह ओर एसएसपी डॉ. बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि थाना बढ़पुरा क्षेत्र के अंतर्गत श्रद्धालुओं से भरी डीसीएम अनियंत्रित होकर खाई में पलट गई है। हादसे में ग्यारह श्रद्धालुओं की मौत हुई है और चालीस लोग घायल हुए हैं। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को डीसीएम से निकालकर इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करवाया है। सभी श्रद्धालु आगरा के पिनाहट से लखना में स्थित कालका देवी मंदिर पर झंडा चढ़ाने के लिए जा रहे थे। घायल श्रद्धालुओ में दो की हालत नाजुक बनी हुई है, जिन्हें सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी के लिए रेफर किया गया है।

मृतकों की हुई पहचान-

मृतकों की पहचान बनवारी पुत्र भूपाल सिंह, महेश पुत्र अज्ञात, लालू पुत्र रामदीन, राजेश पुत्र छोटेलाल, राजेन्द्र पीटर गंगादीन, गुलाब सिंह पुत्र दीवान सिंह, मनोज पुत्र रामज्ञान, किशन पुत्र बैजनाथ, हाकिम सिंह पुत्र राम सिंह, गुड्डू पुत्र जनवेद और रामदास पुत्र गोपी सिंह के रूप में हुई है।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned