परिवार ने बेटी को उतारा मौत के घाट, प्रेमी संग मिली थी आपत्तिजनक स्थिति में

लड़की के घरवालों ने प्रेमी युगल को बांध कर पीट पीट कर मरणासन्न कर दिया, जिसमें प्रेमिका की मौके पर ही मौत हो गयी.

By: Abhishek Gupta

Published: 03 Jan 2020, 11:11 PM IST

इटावा. उत्तर प्रदेश में इटावा जिले के ऊसराहार इलाके के वैदपुरा गॉव में आज देर शाम प्रेमी युगल को आपत्तिजनक स्थिति में देखे जाने के बाद लड़की के घरवालों ने प्रेमी युगल को बांध कर पीट पीट कर मरणासन्न कर दिया, जिसमें प्रेमिका की मौके पर ही मौत हो गयी, तथा प्रेमी गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसे उपचार के लिए सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में भर्ती करा दिया गया है। इस सनसनीखेज वारदात के बाद गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है।

मौका-ए-वारदात पर इटावा के पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ओमवीर सिंह ने शुक्रवार रात बताया कि आज देर शाम साढ़े 4 बजे के आसपास हुई घटना की जानकारी स्थानीय उसराहार थाना पुलिस को शाम मिली। उन्होंने बताया कि गिरीश कुमार की बेटी पूजा यादव और गांव के ही बारेलाल के बेटे अवधेश यादव को गांव के प्रधान अशोक यादव के घर में आपत्तिजनक स्थिति में देखे जाने के बाद पूजा यादव के परिजनों ने दोनों को बंधक बना लिया और उसके बाद लाठी-डंडों से पीट पीटकर के मरणासन्न कर दिया। लड़की की पिटाई से मौके पर ही मौत गई जबकि प्रेमी गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसको मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने उपचार के लिए सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में दाखिल करा दिया है।

उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद में स्थानीय थाना पुलिस ने मौके पर आकर के पूरे मामले की पड़ताल की तो पाया गया कि लड़की के भाई कुंतेश्वर और पिता गिरीश यादव ने ही इस वारदात को अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि घटना के बाद में गांव से लड़की के परिजन मौके वारदात से फरार है जबकि प्रेमी के परिजन गांव में ही मौजूद है घटना को लेकर के गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है गांव के लोग इस घटना के बारे में कोई भी जानकारी स्पष्ट तौर पर देने के लिये सामने आने के लिए तैयार नहीं है।

स्थानीय पत्रकार गौरव गुप्ता ने बताया कि यह सनसनीखेज वारदात भरतिया कोठी पुलिस चौकी के पास में घटित हुई है। मौके पर जाकर पता चला कि इस सनसनीखेज वारदात के बाद गांव में पूरी तरीके से सन्नाटा पसरा हुआ है। गांव के लोग कोई भी जानकारी देने के लिए सामने आने के लिए तैयार नहीं है। उन्हें डर इस बात का है कि पुलिस कहीं उनको भी इस घटना में शामिल ना कर लें।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned