मिशन शक्ति के तहत इटावा में आयोजित हुआ पतंग महोत्सव

मिशन शक्ति के तहत इटावा में आयोजित हुआ पतंग महोत्सव. देखें वीडियो.

By: Abhishek Gupta

Published: 17 Feb 2021, 05:35 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क.

लखनऊ. सरकार द्वारा लिए जा रहे टैक्स को पेट्रोल की रिटल कीमत से हटा दे, तो जमीन आसमान का फर्क आ जाएगा। और जो खबर का जो शीर्षक है, वह सच हो जाएगा। अकसर लोग तुलना करते हैं, की श्रीलंका में, पाकिस्तान में भारत से भी कम रेट में ए

लखनऊ में पेट्रोल (Petrol Prices in Lucknow) की कीमतें आसमान छू रही हैं। प्रति लीटर प्रीमीयम पेट्रोल (Premium Petrol) के लिए अब ग्राहक को 90.41 रुपए देने पड़ रहे हैं। सोमवार से हुई इस बढ़ोत्तरी से लोगों में काफी रोष है, लेकिन पेट्रोल ऐसी चीज है, जिसके आगे हर कोई बेबस है। वर्तमान में प्रीमियम पेट्रोल का दाम 90.41रुपए प्रति लीटर है, तो नॉर्मल पेट्रोल (Normal Petrol) 87.63 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। वहीं लखनऊ में डीजल (Diesel price in Lucknow)की कीमत 79.72 रुपए प्रति लीटर है। बीते आठ दिनों से पेट्रोल व डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। इंदौर में तो प्रीमियम पेट्रोल का दाम 100 रुपये प्रति लीटर को पार कर गए हैं। दूसरे कई देशों की तुलना में भारत में पेट्रोल के दाम ज्यादा है। सरकार का तो यह दावा है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत बढ़ रही है, इसलिए देश में ऐसी बढ़ोत्तरी की जा रही है, लेकिन जानकारों के गले यह बात उतर नहीं रही क्योंकि लॉकडाउन के दौरान जब अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें घटी थीं, तब भी भारत में इसके भाव बढ़ रहे थे।

ये भी पढें- Electricity Bill: सिम की तरह ग्राहक बदल सकेंगे विद्युत कंपनी, सस्ती मिलेगी बिजली, कम आएगा बिल

यूपी में लगता है इतना वैट-

जानकारों का कहना है कि जब अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत कम भी हुई तब भी सरकारों ने ज्यादा टैक्स लगाया। वह इस अवसर को अपना राजस्व बढ़ाने के लिए इस्तेमाल करते गए। पेट्रोल पर सेल्स टैक्स/वैट की यदि बात करें, तो पेट्रोलियम प्लालिंग एंड अनेलेसिस सेल (PPAC) के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में 26.80 प्रतिशत या 18.74 रुपए (जो ज्यादा हो) टैक्स प्रति लीटर लगाया जाता है। वहीं राजस्थान में 36 प्रतिशत, मध्य प्रदेश में 33, दिल्ली में 30 प्रतिशत तो पंजाब में 25 प्रतिशत का वैट लगाया जा रहा है। इसी तरह डीजल पर भी सेल्स टैक्स/वैट वसूला जा रहा है। उत्तर प्रदेश में डीजल पर 17.48% या Rs 10.41 रुपए (जो ज्यादा हो) प्रति लीटर सेल्स टैक्स/वैट टैक्स लगाया जा रहा है।

ये भी पढ़ें- बीते तीन दिनों में Gold के कीमत में आई गिरावट, इतने में करेंगे निवेश तो होगा 15 हजार तक का फायदा, जानें आज का भाव

..तो 34.73 रुपए रह जाएगी पेट्रोल की कीमत-

वहीं केंद्र सरकार पेट्रोल पर 32.9 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 31.80 रुपये प्रति लीटर कस्टम और सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी लगाती है। पेट्रोल व डीजल की रीटेल प्राइस में क्रमशः लगभग 61 प्रतिशत व 56 प्रतिशत हिस्सा केंद्रीय व राज्य सरकार द्वारा लगाए गए टैक्स का होता है। इस हिसाब से लखनऊ में प्रीमीयम पेट्रोल (रीटेल प्राइस 90.41) पर यदि वो टैक्स हटा दें तो इसकी कीमत 35.25 रुपए प्रति लीटर रह जाएगी। ऐसे ही डीजल जो वर्तमान में लखनऊ में 79.72 रुपए प्रति लीटर में बिक रहा है, वह 56 प्रतिशत टैक्स के बिना 35.07 रुपए प्रति लीटर हो जाएगा। देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 36.47 रुपए प्रति लीटर हो जाए, यदि मौजूदा रेट (89 रुपए) में सेंट्रल टैक्स 32.98 रुपए व स्टेट टैक्स 19.55 रुपए प्रति लीटर हटा दें। इसके अतिरिक्त पेट्रोल के दाम में डीलर कमिशन भी शामिल होता है। दिल्ली में 2.6 रुपए प्रति लीटर डीलर कमिशन लिया जाता है।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned