गुरूग्राम की अरावली पहाड़ियों पर बनेगी लैपर्ड सफारी, हरियाणा के वन मंत्री ने देखीं सफारी की व्यवस्थाएं

गुरूग्राम की अरावली पहाड़ियों पर बनेगी लैपर्ड सफारी, हरियाणा के वन मंत्री ने देखीं सफारी की व्यवस्थाएं

Neeraj Patel | Updated: 13 Aug 2019, 09:59:44 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

हरियाणा के गुरूग्राम में अरावली की पहाड़ियों में पहले लैपर्ड और फिर लॉयन सफारी बनाए जाने की योजना है।

इटावा. इटावा सफारी की जगह-जगह धूम मची है। इसी क्रम में अब हरियाणा के गुरूग्राम में भी सफारी बनाई जाएगी। गुरूग्राम में अरावली की पहाड़ियों में पहले लैपर्ड और फिर लॉयन सफारी बनाए जाने की योजना है। इसके लिए इटावा सफारी प्रेरणा श्रोत बनकर सामने आई है। हरियाणा के वन व पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरवीर सिंह ने सफारी की व्यवस्थाएं देखीं और इसी तर्ज पर गुरूग्राम में सफारी बनाए जाने की बात कही। दोपहर को सफारी देखने के बाद पत्रकारों से बातचीत में सिंह ने कहा कि हरियाणा सरकार गुरूग्राम में सफारी बनाना चाहती है। उन्हें बताया गया था कि इटावा सफारी इस मामले में आदर्श है इसलिए वे इटावा सफारी देखने आए हैं और उन्होंने इटावा सफारी के बारे में जो भी सुन रखा था सफारी को उससे भी बेहतर पाया है।

ये भी पढ़ें - सीएम योगी के रूस से वापस आते ही पुलिस विभाग में हो सकते हैं बड़े फेरबदल, गृह विभाग तैयार कर रहा कच्चा चिट्ठा

इसी आधार पर गुरूग्राम अरावली की पहाड़ियों में सफारी की शुरूआत की जाएगी। इसी महीने लैपर्ड सफारी बनाए जाने की शुरूआत करा दी जाएगी। बाद में लॉयन सफारी भी बनाई जाएगी। उन्होंने बताया कि गुरूग्राम के आस-पास के क्षेत्र में बड़ी संख्या में लैपर्ड पाए जाते हैं। पिछले दिनों शहरी क्षेत्र में भी एक लैपर्ड आ गया था। अब यह निश्चय किया गया कि गुरूग्राम में सफारी बनाई जाए। उन्होंने कहा कि खर्चे के लिए कोई कमी नहीं है। सफारी पर जो भी खर्चा आएगा वह हरियाणा सरकार वहन करेगी। इसके लिए एक हजार एकड़ भूमि को भी चिन्हित कर लिया गया है, जहां पर सफारी बनाई जाएगी।

सिंह ने इटावा सफारी की काफी प्रशंसा की और कहा कि इस सफारी को देखकर उन्हें भी गुरूग्राम में बेहतर सफारी बनाने का ख्याल आया है जिसे अमलीजामा पहनाया जाएगा। उनके साथ हरियाणा के मुख्य वन संरक्षक वन्यजीव वीएस तंवर, आलोक कुमार व वन विभाग के कुछ अन्य अधिकारी भी आए थे। ईको फॉरेस्ट के डायरेक्टर संजय श्रीवास्तव, सफारी के डायरेक्टर वीके सिंह, डिप्टी डायरेक्टर सुरेशचंद्र राजपूत, डीएफओ सत्यपाल व अन्य अधिकारियों ने हरियाणा के वन मंत्री को सफारी के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां दीं।

ये भी पढ़ें - सावन के आखिरी सोमवार को इस शिव मंदिर में उमड़ी भक्तों की भीड़, 2000 बर्ष पुराना है यह मन्दिर

एनसीआर में यह पहली सफारी बनेगी

एनसीआर क्षेत्र में अभी तक कोई भी सफारी नहीं है। गुरूग्राम अरावली की पहाड़ियों में यह पहली सफारी बनने जा रही है। हरियाणा के वन मंत्री ने कहा कि यह सफारी गुरूग्राम में सेक्टर 76 के पास बनाई जाएगी और यहां दिल्ली से 20 मिनट में पहुंचा जा सकता है। एनसीआर में अभी तक कोई सफारी नहीं बनी है। यह लैपर्ड सफारी एनसीआर क्षेत्र में बनने वाली पहली सफारी होगी। इसलिए यह काफी महत्वपूर्ण भी है और बड़ी संख्या में पर्यटक इसे देखने के लिए आएंगे।

अधिकारियों का रहेगा आना - जाना

गुरूग्राम में बनने वाली सफारी को लेकर हरियाणा सरकार का वन विभाग तथा इटावा सफारी लगातार संपर्क में रहेगी। इस सफारी को आकर्षक स्वरूप देने के लिए हरियाणा वन विभाग के अधिकारी इटावा सफारी आएंगे। जबकि इटावा सफारी के अधिकारियों को मदद के लिए गुरूग्राम भी बुलाया जाएगा। हरियाणा के वन मंत्री ने कहा कि दोनों प्रदेशों के अधिकारियों का आवागमन जल्द शुरू हो जाएगा।

ये भी पढ़ें - सीएम योगी सोशल मीडिया पर अभी भी अखिलेश यादव से काफी पीछे, जानिए कितनी है फॉलोअर्स की संख्या

वन मंत्री बोले - फिर सत्ता में आएंगे

हरियाणा के वन मंत्री ने यह भी कहा कि अगले एक महीने में हरियाणा में विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लागू हो जाने की संभावना है। इसके चलते एक महीने से पहले वहां लैपर्ड सफारी बनाने का कामकाज शुरू करा दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि यदि किन्हीं कारणों से इस एक महीने में सफारी का काम शुरू नहीं हो सका तो भी कोई चिंता की बात नहीं है। दो महीने में चुनाव हो जाएंगे, हम फिर सत्ता में आएंगे और तब सफारी का कार्य शुरू करेंगे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned