मॉर्निंग वाक करने गई रिटायर्ड रेलवे कर्मी की पत्नी की बदमाशों ने फोड़ी आंखे, फिर गुप्तांग में...

मॉर्निंग वाक करने गई रिटायर्ड रेलवे कर्मी की पत्नी की बदमाशों ने फोड़ी आंखे, फिर गुप्तांग में...

Abhishek Gupta | Publish: Jun, 14 2018 08:32:39 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

मॉंर्निग वाक के दौरान एक महिला को लुटेरो ने लूट के इरादे से पीट पीट कर अधमरा कर दिया.

इटावा. मार्निग वाक के दौरान एक महिला को लुटेरो ने लूट के इरादे से पीट पीट कर अधमरा कर दिया, लेकिन महिला के जैसे ही उन लोगों को पहचानने की बात कही को उनके होश उड़ गए। दरिंदगी की हद पार करते हुए उन लोगों ने महिला की पहले आंखे फोड़ दी फिर उसके गुप्तांग में डण्डा डाल कर जान से मारने के प्रयास किया। उस वक्त तो महिला बच गई, लेकिन चिकित्सालय जाते समय रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। घटना के कारण आस पास के ग्रामीणों में अत्यधिक भय व्याप्त है।

ऐसे दिया वारदात को अंजाम-

उत्तर प्रदेश में इटावा जिले के थाना क्षेत्र के ग्राम मेढ़ीदुधी निवासी शशिओम ने बताया कि उसकी 62 वर्षीया मां सुमनलता पत्नी स्वतन्त्रदेव सिंह (रिटायर्ड रेलवे कर्मी) रोज प्रातःकाल साढे पांच बजे अपने घर से रेलवे लाइन की ओर करीब दो किलोमीटर दूर खेतों की तरफ टहलने जाती थी, रोज की तरह गुरूवार को अपना डण्डा लेकर वो साढे पांच बजे टहलने निकली थी। तभी रेलवे लाइन के निकट पहले से घात लगाये बैठे दो बदमाशों ने उन्हें रोककर धक्का मारकर जमीन पर गिरा दिया और मारपीट कर उनके कानों के सोने के कुण्डल व एक जंजीर, मंगलसूत्र तथा चांदी की तौड़िया लूट ली। जैसे ही बदमाश जेवरात लूटकर चलने लगे तभी अधमरी महिला ने कह दिया कि उसने बदमाशों को पहचान लिया है। इस बात को सुनकर दोनों बदमाश लौटे और महिला को खींचकर सड़क किनारे कूल में ले गये। जहां पर उसका डण्डा छीनकर डण्डा और पत्थर मार-मारकर उसका सिर फोड़ दिया। उसके बाद उसकी आंखे फोड़ने का प्रयास किया गया। वहीं महिला के डण्डे को उसके गुप्तांग में डाल दिया जिससे वह बेहोश हो गयी। बदमाशों ने उसे मरा समझकर छोड़ दिया और भाग गये।

महिला ने तोड़ा दम-

इसके बाद घटना स्थल से पड़ोसी ग्राम पिल्हा का एक ग्रामीण जो दूध लेने के लिए प्रतिदिन गांव मेढ़ीदुधी आता था, उसने घायल पड़ी महिला की सूचना ग्रामीणों को दी। सूचना पाते ही ग्रामीण और उसके परिजन घटना स्थल पर पहुंचे। घायल पड़ी महिला के होश में आने पर उसने सारा घटनाक्रम अपने परिजनों को बताया। परिजन गम्भीर हालत में महिला को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भरथना ले गये। जहां से प्राथमिक चिकित्सा के बाद उसे जिला चिकित्सालय रिफर कर दिया गया। महिला की गम्भीर हालत देखकर चिकित्सकों ने उसको आगरा भेजा। अस्पताल पहुंचने से पहले उसने दम तोड़ दिया।

शादी समारोह में होना था शामिल-

परिजनों का कहना था कि मृतका सुमनलता को गुरूवार को ही शिकोहाबाद में आयोजित एक रिश्तेदार के शादी समारोह में शामिल होने के लिए जाना था। उसे क्या मालमू था कि मौत उसे आज गंतव्य तक नहीं पहुंचने देगी।
थाना प्रभारी जे पी पाल ने बताया कि मृत महिला सुमनलता के परिजनों की निशानदेही पर दो संदिग्ध व्यक्तियों को पुलिस ने पूछताछ के लिए अपनी हिरासत में ले लिया है। मृतका के परिजनों की तहरीर मिलते ही मामला थाने में दर्ज कर कार्यवाही की जायेगी। फिलहाल मृतका का पंचनामा भरकर उसे पोस्टमाटर्म के लिए भेजा जा रहा है। सुमनलता की लूट के बाद हत्या के कारण ग्रामीण समेत आस पास के गांव की महिलाओं व वरिष्ठ नागरिकों में अत्यधिक भय व्याप्त है, क्योंकि वे रोजाना टहलने के लिए प्रातःकाल अपने अपने घरों से निकलते है।

Ad Block is Banned