शिवपाल के जन्मदिन के पोस्टरों से समाजवादी रंग और मुलायम की फोटो गायब, शुरू हो गई नई पार्टी की चर्चा

शिवपाल के जन्मदिन के पोस्टरों से समाजवादी रंग और मुलायम की फोटो गायब, शुरू हो गई नई पार्टी की चर्चा

Mahendra Pratap | Publish: Sep, 04 2018 01:52:46 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव इस साल अपने जन्मदिन को लेकर खासी चर्चा में दिखाई दे रहे हैं

इटावा. समाजवादी सेक्यूलर मोर्चे का ऐलान कर चुके समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव इस साल अपने जन्मदिन को लेकर खासी चर्चा में दिखाई दे रहे हैं। असल में चर्चा तब शुरू हुई जब शिवपाल सिंह यादव को जन्मदिन पर बधाई और शुभकामनाएं देने वाले होर्डिंग बैनर और पोस्टरों से समाजवादी पार्टी का केवल रंग उतारा गया बल्कि नेता जी की फोटो को भी उससे अलग कर दिया गया।

यही कुछ ऐसी बातें है जो इस बात की ओर इशारा करते हैं कि शिवपाल सिंह यादव अपने जन्मदिन के बहाने कुछ नई राजनीतिक बिसात बिछाने की तैयारी में दिखाई दे रहे थे लेकिन उनकी हिम्मत जन्मदिन पर किसी भी राजनैतिक पारी का ऐलान करने की नहीं हो सकी।

जन्मदिन को लेकर के लगाए गए कई सैकड़ा होर्डिग, बैनर

इटावा में शिवपाल सिंह यादव के जन्मदिन को लेकर के कई सैकड़ा होर्डिग, बैनर और पोस्टरों को लगाया गया था जिनमें किसी में भी समाजवादी पार्टी का न तो रंग दिखाई दिया और न ही झंडा दिखाई दिया। सिर्फ इतना ही नहीं समाजवादी पार्टी के नेता और संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तस्वीर का भी इस्तेमाल करने की ज़हमत और जरूरत शिवपाल सिंह यादव के किसी भी समर्थक ने नहीं उठाई है।
शिवपाल सिंह यादव का जन्मदिन इटावा में मुलायम के लोग नामक संगठन के पदाधिकारियो ने मनाया। इसी संगठन के पदाधिकारियों की तरफ से इस तरीके के होर्डिंग बैनर और पोस्टरों का इस्तेमाल किए गए रहे। जिनमें समाजवादी पार्टी के रंग का न केवल इस्तेमाल किया गया बल्कि मुलायम सिंह यादव की तस्वीर को भी बैनर पोस्टर और होर्डिंग से पूरी तरीके से अलग रखा गया।

बड़े पैमाने पर चल रही समाजवादी सिंबल के मुद्दे की लड़ाई

इसके पीछे तर्क यह दिया गया कि जिस समय समाजवादी सिंबल के मुद्दे की लड़ाई बड़े पैमाने पर चल रही थी उसी समय मुलायम के लोग संगठन के कार्यकर्त्ताओं ने समाजवादी पार्टी से त्याग पत्र दे दिया था और त्यागपत्र के बाद समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण नहीं की लेकिन मुलायम सिंह यादव और शिवपाल सिंह यादव के समर्थक और भक्त हैं। ऐसे में उनको शुभकामनाएं और बधाई देने वाले संदेशों के जरिए वह समाजवादी पार्टी के रंग और झंडे का इस्तेमाल नहीं कर सकते इसलिए ऐसा नहीं किया गया है।

Ad Block is Banned