शिवपाल का बड़ा बयान, बोले-2019 का लोकसभा चुनाव तो लड़ेंगे ही, केंद्र सरकार में भी होंगे शामिल

शिवपाल का बड़ा बयान, बोले-2019 का लोकसभा चुनाव तो लड़ेंगे ही, केंद्र सरकार में भी होंगे शामिल

Ashish Kumar Pandey | Publish: Nov, 10 2018 02:11:21 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 02:11:22 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

संजीव यादव सैकड़ों समर्थकों के साथ सपा छोड़ प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया में हुए शामिल।

 

इटावा. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने दावा किया है कि वह 2019 के संसदीय चुनाव में हर हाल में किस्मत आजमा कर जीत हासिल कर केंद्र सरकार में शामिल होंगे। हालांकि शिवपाल ने इस बात का खुलासा नहीं किया कि वो किस सीट से चुनाव लड़ेंगे।
सैफई के पास बंजराहार गांव में पार्टी की एक सभा को संबोधित करते हुए शिवपाल सिंह ने दावा किया है कि जमीनों पर कब्जों को लेकर परिवार में विवाद शुरू हुआ था जिसमें नेता जी ने उनका ही पक्ष लिया था।

केंद्र सरकार में भागीदारी होगी
उन्होंने सूबे की योगी सरकार पर लूट खसोट से लेकर अवैध कब्जों को लेकर जहां तीखा हमला बोला तो वहीं खुलकर कहा कि इस बार के आम चुनाव में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की केंद्र सरकार में भागीदारी होगी। उन्होंने आरोप लगाया कि जिस मामले को लेकर उन्होंने समाजवादी सरकार पर हमला बोला था वही कब्जे और शराब की सप्लाई गांव-गांव में हो रही है और थाने तथा तहसील लूट के अड्डे बन गये हैं।। इसे लेकर जनता में अब खुलकर सरकार के प्रति नाराजगी दिखने लगी है।

बगैर रुपए दिए कोई कार्य नहीं हो रहा है
इस मौके पर सैफई विकास खंड सैफई के ग्राम पंचायत बंजाराहार के प्रधान संजीव यादव अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ समाजवादी पार्टी छोड़ कर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के अध्यक्ष शिवपाल सिंह की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए। हवाई पट्टी चौराहे पर जमा हुये समर्थकों को संबोधित करते हुये शिवपाल ने कहा आज केंद्र व राज्य सरकार प्रदेश में होने के बाद में भी जनता को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। आज थाना तहसीलों में लूट हो रही है बगैर रुपए दिए कोई कार्य नहीं हो रहा है। हम जब सरकार में थे तब हमने राजस्व संहिता लागू की थी आज उसका भी पालन नहीं किया जा रहा है। नोटबंदी जीएसटी लागू होने से हर व्यक्ति परेशान हुआ बेरोजगारी बढ़ गई है। क्राइम व रेप जैसी घटनाओं में बढ़ोतरी हुई है। कहा, इसीलिए हमने यह नई पार्टी बनाई है, जिसमें किसान, गरीब, पिछड़े लोगों की आवाज उठाने के लिए अभी 2 महीने ही हुए हैं। पूरे प्रदेश में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी छा गई है, विरोधी बौखला गए हैं।

जिसका हमने विरोध किया और नेता जी ने हमारा समर्थन कर दिया
हमारे परिवार में झगड़े का मुख्य कारण भी अवैध कब्जे छुड़ाने को लेकर हुआ था। अवैध कब्जों को लेकर करहल मैनपुरी में मीटिंग के दौरान लोगों ने बताया कि कुछ बड़े नेता सरकार के पक्ष में रहकर अवैध कब्जे व अवैध कार्यों में संलिप्त हैंं तो यह मुद्दा हमने उठाया था। गांव में जगह-जगह नंबर दो की अवैध दारू की सप्लाई की जा रही थी, जिसका हमने विरोध किया और नेता जी ने हमारा समर्थन कर दिया, जिसमें हम दोनों लोगों को अपमानित होना पड़ा।
अबकी बार जो भी दिल्ली में सरकार बनेगी उसमें प्रगतिशील समाजवादी पार्टी शामिल होगी। शिवपाल सिंह ने कहा, अबकी बार लोकसभा का चुनाव जरूर लड़ेंगे और केंद्र में शामिल होंगे। उन्होंने समाजवादी पार्टी के दिल्ली के नेताओं का नाम लिए बगैर कहा, अगर समाजवादी पार्टी का मैनेजमेंट ठीक होता तो नेताजी आज प्रधानमंत्री होते, दिल्ली का मैनेजमेंट ठीक ना होना मुख्य कारण रहा। सभा को संबोधित के दौरान कार्यकर्ताओं ने शिवपाल सिंह से हवाई पट्टी चौकी प्रभारी प्रभुदयाल पर अवैध वसूली का आरोप लागया। एक गरीब व्यक्ति ने से 90 हज़ार रुपए लेने की शिकायत की जिस पर शिवपाल सिंह भड़के और उन्होंने तत्काल चौकी इंचार्ज को बुलाकर नाराज होते हुए कहा, जिससे पैसे लिए हैं उसके पैसे वापस कर दो और सुधार जाओ नहीं तो तुम्हारे खिलाफ कार्रवाई कराई जाएगी।
इस मौके पर पूर्व विधायक मानिकचंद यादव, पार्टी के जिला अध्यक्ष सुनील यादव, डा. अरविंद यादव, जिला पंचायत सदस्य, महावीर सिंह यादव प्रधान, संजू यादव प्रधान, राजवीर सिंह बूथ अध्यक्ष, प्रमोद यादव सेक्टर प्रभारी, संतोष कुमार, रजनीश कुमार बाबा, योगेंद्र कुमार, रमेश पंडित,जबर सिंह, छेदा लाल मुंशी, नारद यादव, विपिन यादव कठुआ मौजूद रहे।

 

Ad Block is Banned