शताब्दी एक्सप्रेस के पहिए से निकला धुआं

शताब्दी एक्सप्रेस के पहिए से निकला धुआं
Shatabdi express

Shatrudhan Gupta | Updated: 29 Nov 2017, 09:59:01 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन पास होते समय स्टेशन मास्टर ने धुआं निकलते देख इसकी जानकारी तुरंत कंट्रोल रूम और ट्रेन चालक को दी।

इटावा. नई दिल्ली से कानपुर के लिए जा रही शताब्दी एक्सप्रेस के यात्री उस समय दहशत में आ गए, जब ट्रेन का बे्रक शू जाम होने से उसमें से धुआं निकलने लगा। शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन पास होते समय स्टेशन मास्टर ने धुआं निकलते देख इसकी जानकारी तुरंत कंट्रोल रूम और ट्रेन चालक को दी। इसके बाद ट्रेन चालक ने ट्रेन रोकी। सूचना पर पहुंचे टेक्निकल स्टाफ ने ब्रेक शू को सही किया, इसके बाद शताब्दी एक्सप्रेस आगे के स्टेशन के लिए रवाना कर दी गई। बताया जाता है कि ब्रेक शू को सही करने के कारण ट्रेन करीब २० मिनट तक जसवंत नगर रेलवे स्टेशन के पास खड़ी रही।

ट्रेन के पहिए से धुआं निकलता देख तुरंत दी सूचना

जानकारी के मुताबिक गाड़ी संख्या 12004 डाउन शताब्दी एक्सप्रेस सुबह करीब 10.23 बजे जसंवत नगर रेलवे स्टेशन से पास हो रही थी। इसी बीच ट्रेन के कोच नंबर सी-2 के नीचे चक्के से धुआं निकलता देख जसवंत नगर स्टेशन मास्टर नगेन्द्र सिंह ने इसकी सूचना तुरंत कंट्रोल रूम और शताब्दी के ड्राइवर को दी। चक्के से धुआं निकलने की सूचना पर चालक ने तुरंत ट्रेन को रोक दिया। इसकी जानकारी रेलवे के टेक्निकल स्टाफ को दी गई। वहीं, टे्रन के पहिए से धुआं निकलने की खबर यात्रियों को लगते ही उनमें हड़कंप मच गया। हालांकि, घटना की जानकारी लगते ही उन्होंने राहत की सास ली।

इटावा स्टेशन पर भी चक्कों की जांच हुई

बताया जाता है कि जसवंत नगर स्टेशन मास्टर ने टे्रन के पहिए से धुआं निकलता देख ट्रेन चालक को जानकारी दी। इस पर चालक ने जसवंतनगर स्टेशन से लगभग तीन किलो मीटर दूर सिग्नल नंबर 508 के पास ट्रेन को रोक दी। ड्राइवर और गार्ड के साथ ट्रेन में मौजूद टेक्निकल स्टाफ ने चक्कों की तुरंत जांच की। बताया जाता है कि शताब्दी के कोच नंबर सी-2 के नीचे चक्के से हल्का धुआं निकल रहा था, इस पर रेलवे के टेक्निकल स्टाफ ने चक्कों के ब्रेक शू को दुरुस्त कर दिया। इसके बाद टे्रन रवाना की गई। इसे लेकर ट्रेन लगभग 20 मिनट तक बीच रास्ते में ही खड़ी रही। ब्रेक शू दुरुस्त होने के बाद 10.42 बजे ट्रेन इटावा के लिए रवाना हो सकी। बताया जाता है कि 10.57 बजे पर जब शताब्दी एक्सप्रेस इटावा पहुंची तो यहां भी टीएक्सआर टीम ने चक्कों की जांच की।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned