अखिलेश के "घर" में पुलिस उत्पीडऩ के खिलाफ सड़कों पर उतरेंगे सपाई

पार्टी ने पुलिस-प्रशासन के खिलाफ खोला मोर्चा।

 

By:

Published: 06 Sep 2018, 09:29 PM IST

इटावा. समाजवादी पार्टी के प्रमुख गढ़ इटावा में पुलिस उत्पीडऩ के खिलाफ आंदोलनात्मक रूख अपनाते हुए 24 सितंबर को एक बडा आंदोलन करने का ऐलान किया।
जिला पंचायत अध्यक्ष अंशुल यादव व सपा जिलाध्यक्ष गोपाल यादव ने एक सयुक्त प्रेसवार्ता में इटावा के एसएसपी अशोक कुमार त्रिपाठी पर गंभीर आरोप लगाते हुए पुलिस प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। पुलिस के वसूली अभियान को लेकर समाजवादी पार्टी 24 सितम्बर को एक बड़ा आंदोलन शुरू करने जा रही है।
उन्होंने कहा कि पुलिस प्रमुख होने के नाते उनकी यह जिम्मेदारी बनती है कि पुलिस आखिरकार कैसे वसूली करती है, यह बड़ा सवाल खड़ा हुआ है। उनका कहना है कि इटावा में एक साल से थानेदार तैनात हैं जिनके कार्यक्षेत्रों में आज तक बदलाव नहीं हुआ था और हम समाजवादियो ने जब इसकी शिकायत एसएसपी से की तो उन्होंने कुछ के थाना क्षेत्र तो बदल दिए पर उन्होंने उन दागी थानाध्यक्षों से मोटी रकम वसूलते हुए उनको वहाँ से हटाकर दूसरी अच्छी जगह भेज दिया जबकि एसआई थानाध्यक्ष बने बैठे हैं और इंस्पेक्टर आफिसों की फाइलें उठा रहे हैं।
समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष गोपाल यादव ने इटावा की पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि पूरे जिले में लूट मचाये हुए हैं। पुलिस आम आदमी को पकड़ कर के थाने में बंद कर रही है और उससे विभिन्न तरीके से प्रताडि़त करके धन वसूली करने में जुटी हुई है।
समाजवादी जिला पंचायत अध्यक्ष अंशुल यादव ने कहा कि इस समय पुलिस ने लूट मचा रखी है और जिस तरह से भले लोगों को अपमानित किया जा रहा है। इसमें लोग आवाज़ उठा रहे हैं। आज आप खुद ही पता कर सकते हैं। जनपद में किसी भी भले व्यक्ति का सम्मान सुरक्षित नहीं है। किसी भी व्यक्ति को जा करके पुलिस अपमानित कर सकती है।
उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस निर्दोष लोगों को जेल भेजने का काम कर रही है। उनके पास इस तरह की भी खबरे हैं जिसमें स्पष्ट है कि सैकड़ों निर्दोष लोगों को जेल भेजा जा चुके है। अगर जेल में आप मिलने जाएं तो वहां देखेंगे कि जेल की हालात कितनी खराब है। अगर जेल में कैद लोगों की बात को माना जाये तो 90 प्रतिशत लोग निर्दोष हैं।
उन्होंने इटावा के एसएसपी अशोक कुमार त्रिपाठी को चेतावनी देते हुए कहा कि आखिर क्या वजह है कि आप अपने थानेदारो में सुधार क्यों नहीं करते हैं। कुछ ना कुछ सवाल उठना आप के लिए लाजिमी है। अगर पुलिस ने अपना वसूली अभियान नहीं सुधारा तो समाजवादी पार्टी जनता के हित मे 24 सितम्बर को ईट से ईंट बजा देंगी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned