बेकाबू ट्रक की टक्कर से बिजली पोल टूटा, शिवपाल सिंह यादव का था इलाका

सपा विधायक शिवपाल सिंह यादव के निर्वाचन इलाके में बलरई से बाऊथ मार्ग पर तेज रफ्तार से आ रहे ट्रक ने एक विद्युत पोल में जोरदार टक्कर मार दी।

By: Mahendra Pratap

Published: 17 May 2018, 06:06 PM IST

इटावा. समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और जसवंतनगर के सपा विधायक शिवपाल सिंह यादव के निर्वाचन इलाके मे बलरई से बाऊथ मार्ग पर तेज रफ्तार से आ रहे ट्रक ने एक विद्युत पोल में जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर से ट्रक में सवार तीन यात्री बुरी तरह घायल हो गए। इधर पोल टूटने के बाद गांव की बिजली गुल हो गई।

बड़ा हादसा होते-होते बच गया

इटावा से ग्राम बलरई नहर पुल से होकर बाउथ गांव में जा रहा एक ट्रक संख्या एचआर 47 सी 9407 ने नगला विशुन चौराहे पर रात्रि करीब डेढ़ बजे ट्रक ने विद्युत पोल में टक्कर मारकर खड़े पेड़ में घुस गया। जिससे कोई बड़ा हादसा होते-होते बच गया। ट्रक की टक्कर से पोल टूट गया। इस पोल से गुजर रही 33 केवीए लाइन में ब्रेक डाउन हो गया। पास ही पानी टंकी भी छतिग्रस्त हो गई। जकड़ अलावा ट्रक में जसवंतनगर से सवार तीन यात्री अजय कुमार, रामचंद्र, सुरेश बाबू निवासी गांव खदिया पोस्ट बाउथ बुरी तरह से घायल हो गए।

बिजली गुल रहने से गर्मियों से ग्रामीण कराहा उठा

इधर पोल टूटने से बिजली गुल रहने से गर्मियों से ग्रामीण व गांव कराहा उठा। ट्रक चालक नशे की हालत में बाउथ गांव निवासी बताया गया जो अपने घर पर ट्रक को तेजरफ्तार से लेकर जा रहा था। हादसा नगला विशुन तालाब के पास जैसे ही ट्रक बाउथ को तेज रफ्तार से मोड़ा और रोड के किनारे खड़े पोल से टकर गया। मौके से चालक फरार हो गया। घायलों को रात को पुलिस की सहायता से इलाज को भेजा गया हैं। इधर गांव के कई हिस्सों में पानी का संकट भी छा गया। मध्य रात्रि से बिजली गुल रहने से ट्यूबवेल भी नहीं चले तो घरों में पानी नहीं भर सका। इसके चलते कई मुहल्लों में लोग सुबह नहा भी नहीं पाए।

लोगों में भारी रोष व्याप्त

ग्रामीणों का कहना है कि अभी तक आंधी तूफान के कारण बिजली नहीं आ रही थी। अब इस ट्रक ने लठ्ठे को तोड़ दिया ऐसे में पानी का संकट खड़ा हो गया। जिससे लोग ज्यादा परेशान एवं लोगों में भारी रोष व्याप्त है।

Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned