स्वर्ण मंदिर को 'मस्जिद' बता विवादों में फंसे ब्रिटिश डिप्लोमैट, अब मांगी माफी

सिख फेडरेशन ने कहा है कि एक सिविल सर्वेंट से ये बहुत बड़ी भूल थी जिसे बिल्कुल भी स्वीकार नहीं किया जा सकता है।

By: Siddharth Priyadarshi

Published: 25 Apr 2018, 10:39 AM IST

नई दिल्ली। एक वरिष्ठ ब्रिटिश सिविल सर्वेंट को अपनी गलत बयानी के लिए मंगलवार को माफी मांगनी पड़ी। ब्रिटिश डिप्लोमेट ने अपने एक ट्वीट में सिख समुदाय की आस्था के केंद्र स्वर्ण मंदिर को 'मस्जिद' कह दिया था, जिसके लिए उन्हें अब माफी मांगने पर मजबूर होना पड़ा है। सिख समुदाय ने इस पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

बताया जा रहा है कि कॉमनवेल्थ ऑफिस के स्थाई अंडर सेक्रेटरी के तौर पर कार्यरत सिमॉन मेक्डॉनल्ड ने सोमवार को स्वर्ण मंदिर को 'स्वर्ण मस्जिद' बताते हुए ट्वीट किया था। विदेश एवं राष्ट्रमंडल कार्यालय के स्थायी अवर सचिव साइमन मैक्डॉनल्ड ने एक दिन पहले एक ट्वीट में अमृतसर स्थित स्वर्ण मंदिर को 'स्वर्ण मस्जिद' (गोल्डन मॉस्क) लिख दिया था।जब यह गलती उनके संज्ञान में लाइ गई तो उन्होंने उसी वक्त अपनी भूल को स्वीकार करते हुए मंगलवार को फ़ी से एक ट्वीट कर माफी मांगी और कहा " मैं गलत था, मैं माफी चाहता हूं। बेशक, मुझे स्वर्ण मंदिर या श्री हरमिंदर साहब कहना चाहिए था।"

 

सिख समुदाय ने विरोध जताया

सिख फेडरेशन के चेयरमेन भाई अमरीक सिंह ने इस घटना पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि कहा "एक बड़े सिविल सरवेंट की ओर से ये बहुत बड़ी भूल थी जिसे बिल्कुल भी स्वीकार नहीं किया जा सकता है।" उन्होंने कहा कि इतने प्रतिष्ठित पद पर होने के बावजूद ये बयान उनकी लापरवाही और सिख समुदाय के प्रति उनके व्यवहार को दर्शाता है। ब्रिटिश मीडिया ने अमरीक सिंह के हवाले से कहा कि, " मेरी राय में सार्वजनिक तौर पर माफी मांगना और गलती कबूल करना काफी नहीं है। हमें ब्रिटिश सरकार और वरिष्ठ सिविल सेवकों से प्रतिबद्धता की दरकार है ताकि ऐसी बेपरवाही और भेदभाव खत्म हो या फिर हम नफरत, अभद्रता और हिंसा की धमकियों का सामना करते रहें।"

मैक्डॉनल्ड की यह गलती ऐसे समय में और भी अधिक चर्चा में आ गई है, जब लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कॉर्बिन ने अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में 1984 में भारतीय सेना दाखिल होने में ब्रिटिश सेना की भूमिका की स्वतंत्र जांच कराने की योजना की घोषणा की है।

 

Siddharth Priyadarshi Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned