फ्रांस में अब किसानों ने खोला मैक्रों सरकार के खिलाफ मोर्चा, अगले सप्ताह आंदोलन का ऐलान

फ्रांस में अब किसानों ने खोला मैक्रों सरकार के खिलाफ मोर्चा, अगले सप्ताह आंदोलन का ऐलान

Mangala Prasad Yadav | Publish: Dec, 06 2018 04:25:11 PM (IST) यूरोप

पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर आम लोगों के प्रदर्शन के बाद अब किसान भी सरकार के खिलाफ लामबंद होने लगे हैं।

पेरिसः फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर आम लोगों के प्रदर्शन के बाद अब किसान भी सरकार के खिलाफ लामबंद होने लगे हैं। देश में बढ़ती महंगाई और कृषि उत्पादों पर सरकार के रवैये से नाराज किसानों ने मैक्रों सरकार के खिलाफ बड़ा आंदोलन करने का ऐलान किया है। किसान संगठनों ने अगले सप्ताह से आंदोलन शुरू करने की घोषणा की है। किसानों का कहना है कि अमीरों को टैक्स में छूट दी जा रही है लेकिन उनके लिए कोई रियायत नहीं दी जा रही है। किसान नेताओं का कहना है कि राष्ट्रपति के खिलाफ पहले से जारी प्रदर्शन में अब किसान भी हिस्सा लेंगे।

सरकार के फैसले से नाराज प्रदर्शनकारी
देश में हिंसक प्रदर्शन के बाद सरकार ने मंगलवार कोडीजल-पेट्रोल की बढ़ी कीमतों को फिलहाल तीन सप्ताह के लिए स्थगित करने का फैसला किया था। लेकिन प्रदर्शनकारियों ने मैक्रों सरकार के इस फैसले को खारिज कर दिया है। प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना है कि डीजल-पेट्रोल में कीमत बढ़ाने का फैसला और अधिक समय के लिए टाला जाए। प्रदर्शनकारियों में आम लोगों के अलावा छात्र संगठन भी शामिल हैं। बता दें कि मैक्रों सरकार के खिलाफ लघु उद्योग करने वाले लोग और पेंशनभोगी पहले ही मोर्चा खोले हुए हैं।

प्रदर्शन के दौरान तीन लोगों की मौत

स्थानीय मीडिया के अनुसार, पिछले तीन सप्ताह से जारी इस विरोध प्रदर्शन में कई शहरों में सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया गया। पुलिस और आंदोलनकारियों के बीच हिंसक झड़प में तीन लोग मारे गए। इस आंदोलन को 'येलो वेस्ट्स' कहा जा रहा है, क्योंकि प्रदर्शनकारियों ने यहां उच्च दृश्यता वाले पीले रंग के कपड़े पहनकर प्रदर्शन किए हैं, जिसे फ्रांसीसी कानून के हिसाब से सभी वाहनों में रखना अनिवार्य है।

Ad Block is Banned