पूर्व विदेश मंत्री का दावा: मे की ब्रेक्सिट योजना से ब्रिटेन को कुछ नहीं मिलेगा

पूर्व विदेश मंत्री का दावा: मे की ब्रेक्सिट योजना से ब्रिटेन को कुछ नहीं मिलेगा

Shweta Singh | Publish: Sep, 03 2018 06:04:28 PM (IST) यूरोप

उन्होंने कहा है कि बातचीत करने के बाद मे ब्रिटेन को खाली हाथ छोड़ देंगी और यूरोपीय संघ (ईयू) को जीत सौंप देंगी।

लंदन। ब्रिटेन के पूर्व विदेश मंत्री बोरिस जॉन्सन ने प्रधानमंत्री थेरेसा मे की ब्रेक्सिट योजना की कड़ी आलोचना की है। उन्होंने कहा है कि बातचीत करने के बाद मे ब्रिटेन को खाली हाथ छोड़ देंगी और यूरोपीय संघ (ईयू) को जीत सौंप देंगी।

चेकर्स समझौता ब्रिटेन के लिए आपद: बोरिस जॉन्सन

मीडिया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि जॉन्सन ने डेली टेलीग्राफ में अपने कॉलम में लिखा है कि जुलाई में उन्हें इस्तीफा देने के लिए मजबूर करने वाला मे का चेकर्स समझौता ब्रिटेन के लिए आपदा है। जॉन्सन ने कहा कि चेकर्य योजना पर आधारित अबतक जो भी बातचीत हुई है, उसमें देखा गया है कि ईयू ने सभी महत्वपूर्ण तरकीबें आजमाई हैं। उन्होंने कहा कि ब्रिटेन करदाताओं का 40 अरब यूरो से अधिक सौंपने पर सहमत हो गया है।

ये भी पढ़ें:- ब्राजील: 200 साल पुराने राष्ट्रीय संग्रहालय में भीषण आग, मौजूद हैं दो करोड़ से ज्यादा कीमती चीजें

मिशेल बर्नियर के बयान के बाद जारी हुआ ये बयान

जॉन्सन ने आगे कहा, 'अगर यह ऐसे ही चलता रहा तो सरकार ब्रेक्सिट के ज्यादातर लाभ गंवा देगी।' आपको बता दें कि उनका बयान ईयू के मुख्य वार्ताकार मिशेल बर्नियर के इस बयान के बाद आया है कि वह इस योजना के बिल्कुल खिलाफ हैं। वहीं ब्रिटेन की सरकार इस बात पर जोर दे रही है कि उसकी ब्रेक्सिट कूटनीति सटीक और व्यावहारिक है।

ये भी पढ़ें:- अफगानिस्तान: तीन स्कूलों पर आतंकियों ने किया ग्रेनेड से हमला, हजारों छात्र प्रभावित

ब्रिटेन, ईयू से 29 मार्च, 2019 को अलग होगा

दूसरी ओर इस सौदे के आलोचकों का कहना है कि इससे ब्रिटेन, ईयू के नियमों में बंध जाएगा और इससे आने वाले सालों में ब्रिटेन के व्यक्तिगत व्यापारिक सौदे बुरी तरह प्रभावित होंगे। बता दें कि ब्रिटेन, ईयू से 29 मार्च, 2019 को अलग हो जाएगा।

ये भी पढ़ें:- जांच एजेंसियों का बड़ा खुलासा, स्प्रिंग थंडर टूर कर नक्सली रच रहे हैं ये साजिश

Ad Block is Banned