ऑस्ट्रेलिया में समलैंगिक शादी को मिला भारी जनसमर्थन, क्रिसमस तक बनेगा कानून

ऑस्ट्रेलिया में समलैंगिक शादी को मिला भारी जनसमर्थन, क्रिसमस तक बनेगा कानून

Kapil Tiwari | Publish: Nov, 15 2017 12:11:07 PM (IST) | Updated: Nov, 15 2017 12:16:22 PM (IST) यूरोप

समलैंगिक शादी को लेकर कराए गए सर्वे में 79.5 लोग शामिल हुए, जिसमें से 61.6 फीसदी लोगों ने इसका समर्थन किया है।

सि़डनी: समलैंगिक रिश्तों को लेकर दुनिया भर के देशों में कई तरह के विरोध प्रदर्शन अभी तक देखने को मिले हैं। हिंदुस्तान में भी समलैंगिक रिश्तों को लेकर खूब बहस हो चुकी है, तो वहीं कई देशों में तो इसे मंजूरी भी मिल चुकी हैं। समलैंगिक शादी के पक्ष में अब ऑस्ट्रेलिया के लोग भी उतर आए हैं और ऐसा लगता है कि बहुत जल्द ही इस देश में समलैंगिक शादियों के लिए एक कानून बन जाएगा।

61 फीसदी से ज्यादा लोगों ने किया समर्थन
दरअसल, ऑस्ट्रेलिया में समलैंगिक शादी को मंजूरी देने के लिए एक ऐतिहासिक सर्वे किया गया, जिसमें भारी संख्या में देश के लोगों ने इसके पक्ष में मतदान किया है। इस सर्वे में 79.5 लोग शामिल हुए थे और उनमें से 61.6 फीसदी लोगों ने पक्ष में मतदान किया है। समलैंगिक शादी पर सरकार ने आठ हफ़्तों तक चलाए पोस्टल सर्वे के ज़रिए लोगों की राय ली थी। इस सर्वे में एक करोड़ 27 लाख लोग शामिल हुए, जिसमें से 61.6 फ़ीसदी लोगों ने समलैंगिक शादी का समर्थन किया।

क्रिसमस तक बनेगा कानून
इस सर्वे से भले ही अभी समलैंगिक शादियों को ऑस्ट्रेलिया में कानूनी मान्यता नहीं मिलेगी, लेकिन संसद में इस मुद्दे पर कानून बनाने का रास्ता जरूर साफ होता दिख रहा है। 38.4 लोगों ने इसके खिलाफ हैं। इस सर्वे को लेकर ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल ने खुशी जाहिर की है और क्रिसमस तक इस पर कानून बनाने की बात कही है। उन्होंने कहा है, 'ऑस्ट्रेलिया के लोगों ने जवाब दिया है। उन्होंने शादी के अधिकार की बराबरी के समर्थन में वोट किया है।' टर्नबुल ने अपनी ही पार्टी के रूढ़िवादी नेताओं पर समलैंगिक शादी के पक्ष में दबाव डालने के लिए राष्ट्रीय सर्वे कराया था। उन्होंने कहा, 'लोगों ने हां में वोट किया है। लोगों ने प्यार के लिए हां में वोट किया है।'

सिडनी में लोगों ने मनाई खुशी
इस सर्वे के नतीजे बुधवार सुबह से ही आने शुरु हो गए और सिडनी के प्रिंस अल्फ्रेड पार्क पर जमा हुए लोगों में से रैनबो झंडा उठाए एक व्यक्ति ने कहा, 'गे और लेस्बियन ऑस्ट्रेलियन के तौर पर यह हमारे लिए गौरव का क्षण है। आखिरकार में अपने देश पर गर्व कर सकता हूं।'

2004 में समलैंगिकता पर लगा था बैन
आपको बता दें कि ऑस्ट्रेलिया को एक उदारवादी देश माना जाता रहा है, लेकिन साल 2004 में ऑस्ट्रेलिया ने विवाह अधिनियम 1961 में संशोधन करते हुए समलैंगिक विवाह पर प्रतिबंध लगा दिया था। 20 साल पहले ऑस्ट्रेलिया के तस्मानिया प्रांत ने पुरुष समलैंगिकता को क़ानूनी वैधता प्रदान की थी। तस्मानिया ऐसा करने वाला ऑस्ट्रेलिया का अंतिम राज्य था।


इन 10 देशों में है समलैंगिकता पर है मृत्युदंड
दुनिया के 76 देशों में आज भी समलैंगिकता को गैरकानूनी माना जाता है और कई देशों में इसके लिए संघर्ष भी जारी है। अमरीका में समलैंगिकता को मंजूरी मिली हुई हैं, वहीं 10 देशों में तो समलैंगिकता पर मृत्युदंड की सजा है। इनमें अधिकतर मुस्लिम देश हैं, जैसे कि यमन, इराक, मॉरीतानिया, नाइजिरिया, कतर, सऊदी अरब, अफगानिस्तान सोमालिया, सूडान और यूएई

Ad Block is Banned