इटली की ओर बढ़ा जहाज, फिर टला एक और खतरा 

इटली की ओर बढ़ा जहाज, फिर टला एक और खतरा 

इटली के दक्षिण-पूर्वी तट की ओर एक और जहाज खतरा बनकर बढ़ता मिला। इस पर 450 प्रवासी सवार थे। 

रोम/एथेंस। इटली के दक्षिण-पूर्वी तट की ओर एक और जहाज खतरा बनकर बढ़ता मिला। इस पर 450 प्रवासी सवार थे, लेकिन चालक दल का कोई सदस्य नहीं था। बाद में इटली के तटरक्षक बलों के जवान जहाज तक पहुंचे और उसे काबू में किया। तटरक्षक विभाग ने टि्वटर पर लिखा, "वाणिज्यिक पोत में प्रवासियों के अलावा कोई नहीं है। ऑटो पायलट मोड पर चल रहे इस पोत की दिशा पुग्लिया तट की ओर है।" रेडक्रॉस के अनुसार, इस पोत में 60 बच्चे और दो गर्भवती महिलाएं थीं। एक महिला ने पोत पर बच्चे को जन्म दिया।

सप्ताह में तीसरी घटना
दो दिन पहले ही इतालवी नाविकों ने एक मालवाहक पोत रोका था जिसमें 970 से अधिक प्रवासी थे। इनमें ज्यादातर सीरियाई थे। इस पर भी कोई चालक दल नहीं था और इसकी दिशा दक्षिण-पूर्वी तट की ओर थी। वहीं रविवार को अटलांटिक नॉर्मन नामक यात्री जहाज में उस वक्त आग लग गई थी जब वह पश्चिमी यूनान के पैट्रस से इटली के एनकोना जा रहा था। जहाज पर 422 यात्री और चालक दल के 56 सदस्य सवार थे।

हालात के मारे लोग
इराक, सीरिया और आसपास की खराब हालत ने शरणार्थियों को देश छोड़ने पर मजबूर किया है। 14 माह में इतालवी नौसैनिकों ने 1.70 लाख ऎसे लोगों को बचाया है। कई हजार लोग इस दौरान मारे भी गए हैं। ये मानव तस्करों के शिकार हैं, जिनसे सीमा पार के नाम पर प्रति व्यक्ति हजारों डॉलर की रकम ली । 
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned