Italy ने अंतर्राष्ट्रीय यात्रा की दी इजाजत, European Union के पर्यटक ही अभी कर सकेंगे यात्रा

HIGHLIGHTS

  • इटली ने क्षेत्रीय और कुछ अंतर्राष्ट्रीय यात्रा ( international travel ) करने की इजाजत दे दी है।
  • सरकार ने 14 दिन की अनिवार्य क्वारंटाइन ( quarantine ) अवधि को भी समाप्त कर दिया है।
  • इटली में यूरोप के बाहर से गैर-जरूरी यात्रा की अभी अनुमति नहीं है। यूरोपीय संघ की बाहरी सीमाओं को कम से कम 15 जून तक बंद कर दिया गया है।

By: Anil Kumar

Published: 03 Jun 2020, 05:17 PM IST

रोम। यूरोपीय देशों ( European Union ) में कोरोना वायरस ( Coronavirus ) से सबसे अधिक प्रभावित इटली ने बुधवार (3 जून) से क्षेत्रीय और कुछ अंतर्राष्ट्रीय यात्रा ( international travel ) करने की इजाजत दे दी है। सरकार ने इस दौरान लॉकडाउन ( Lockdown ) के उपायों को आसान बनाने के दिशा में आगे बढ़ते हुए 14 दिन की अनिवार्य क्वारंटाइन ( quarantine ) अवधि को भी समाप्त कर दिया है।

इटली ने कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच 9 मार्च को राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन ( nationwide lockdown ) की घोषणा की थी और देश व उसके आसपास गैर-आवश्यक यात्रा करने पर सख्त पाबंदी लगा दी थी। लॉकडाउन शुरू होने के बाद सरकार ने देश और क्षेत्रों के बीच कुछ ही तात्कालिक कारणों के लिए यात्रा करने की अनुमति दी थी।

खालिस्तान लिबरेशन फोर्स में शीर्ष पद के लिए कलह शुरू, PAK, Italy, Britain के भी हैं दावेदार

हालांकि अब बुधवार 3 जून से उन नियमों को हटा दिया गया है और सभी क्षेत्रों के बीच अप्रतिबंधित यात्रा एक बार फिर से शुरू हो गई है। इस संबंध में क्षेत्रीय मामलों के मंत्री फ्रांसेस्को बोसिया ( Regional Affairs Minister Francesco Boccia ) ने बुधवार की सुबह कहा, 'हमने यह किया है, हर किसी के बलिदान के लिए धन्यवाद। अब यह अर्थव्यवस्था और नौकरियों की रक्षा पर ध्यान केंद्रित करने का समय है'। बता दें कि इटली में अभी कोरोना पूरी तरह से गायब नहीं हुआ है। मंगलवार को 55 लोगों की मौत हुई थी, जबकि 318 नए मामले सामने आए थे।

केवल यूरोपीय देशों के लोग कर सकेंगे यात्रा

इटली ने बिना क्वारंटाइन आवश्यकताओं के यूरोपीय देशों के नागिरकों के लिए अपनी सीमा खोल दी है। अब यूरोपीय देशों के नागरिक इटली की यात्रा कर सकते हैं। यूरोपीय संघ के 26 सदस्य देश हैं। इसमें शेंगेन क्षेत्र के सदस्य आइसलैंड, लिकटेंस्टीन, नॉर्वे और स्विट्जरलैंड, जबकि यूनाइटेड किंगडम और अंडोरा, मोनाको, सैन मैरिनो एवं वेटिकन सिटी जैसे देश शामिल हैं।

इन देशों से आने वाले पर्यटकों को इटली में प्रवेश करने पर किसी भी प्रतिबंध का सामना नहीं करना पड़ेगा, हालांकि अपने स्वयं के देश के नियमों के आधार पर जब वे घर लौटते हैं तो उन्हें क्वारंटाइन की आवश्यकता हो सकती है।
इटली सरकार के नवीनतम फरमान के अनुसार, यदि आप स्वीकृत देशों में से एक से आ रहे हैं तो आपको प्रतिबंधों का सामना करना पड़ेगा, यदि इटली की यात्रा के 14 दिनों के भीतर यदि सूचीबद्ध कुछ जगहों में कहीं नहीं गए हैं।

इटली में कोरोना से होने वाली मौतों के आंकड़े पर उठे सवाल, 32 हज़ार नहीं 51,000 लोगों की हुई मौत

हालांकि इटली ने कभी भी औपचारिक रूप से अपनी सीमाओं को बंद नहीं किया है और लोगों को काम या स्वास्थ्य कारणों से आगे और पीछे जाने की अनुमति दी है, लेकिन पर्यटन पर पाबंदी लगा दी और नए पर्यटकों के आने पर दो सप्ताह के क्वारंटाइन अवधि लगा दी।

गैर यूरोपीय लोगों के लिए 15 जून तक सीमा बंद

सरकार ने साफ का है कि यूरोप के बाहर से गैर-जरूरी यात्रा की अभी अनुमति नहीं है। यूरोपीय संघ की बाहरी सीमाओं को कम से कम 15 जून तक बंद कर दिया गया है। मई के अंत में यूरोपीय संघ ने गर्मियों की यात्रा करने के लिए फिर से शुरू करने की योजना बनाई, जिसमें सदस्य राज्यों से अपनी आंतरिक सीमाओं को फिर से खोलने का आग्रह किया गया, जबकि सिफारिश की गई कि बाहरी सीमाएं जून के मध्य तक कम से कम यात्रा के लिए बंद रहें।

हालांकि 3 जून से सभी प्रतिबंध नहीं हटाए गए हैं। सभाओं पर प्रतिबंध और सार्वजनिक परिवहन पर मास्क पहनने की आवश्यकता जैसे कुछ नियम अभी भी लागू हैं।

कोरोना वायरस
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned