भारत के साथ मेड इन इंडिया कैंपेन में स्वीडन सबसे मजबूत सहयोगी: नरेंद्र मोदी

भारत के साथ मेड इन इंडिया कैंपेन में स्वीडन सबसे मजबूत सहयोगी: नरेंद्र मोदी

Chandra Prakash Chourasia | Publish: Apr, 17 2018 07:03:37 PM (IST) | Updated: Apr, 17 2018 08:46:56 PM (IST) यूरोप

पीएम मोदी ने स्वीडन के प्रधानमंत्री स्टेफान लोवेन के साथ द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन में भाग लिया, जिसके बाद कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को स्वीडन में अपने आधिकारिक दौरे के शुरुआत की। मोदी ने किंग कार्ल 16वें गुस्ताफ से रॉयल पैलेस में मुलाकात की। मोदी मंगलवार शाम को स्वीडन के प्रधानमंत्री स्टेफान लोवेन के साथ द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन में भाग लिया, जिसके बाद कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए।

मेक इन इंडिया में स्वीडन मजबूत साझेदार: नरेंद्र मोदी
पीएम मोदी के साथ स्वीडिश पीएम स्टेफान लोवेन ने एक साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस किया। स्टॉकहोम में पीएम मोदी ने कहा कि 30 साल पहले भारतीय पीएम ने स्वीडन का दौरा किया था, लेकिन भारत के साथ स्वीडन के रिश्ते पहले की तरह मजबूत हैं। मेक इन इंडिया कैंपेन में भी स्वीडन भारत के साथ एक मजबूत साझेदार के रूप में खड़ा है।

सुरक्षा समझौते पर भारत के साथ: स्टेफान लोवेन
प्रधानमंत्री ने बताया कि स्वीडन और भारत संयुक्त एक्शन प्लान के लिए राजी हो गया है। वहीं स्वीडन के प्रधानमंत्री स्टेफान लोवेन ने कहा कि हम भारत के साथ सुरक्षा समझौते पर साथ काम करेंगे। उन्होंने आगे कहा कि विकास और प्रगति के लिए भारत सरकार जिस तेजी से रिसर्च के काम को आगे बढ़ा रही है वो प्रशंसनीय है। प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद पीएम मोदी ने स्वीडिश कंपनियों के सीईओ से मुलाकात भी की।

पहले इंडिया-नोरडिक शिखर सम्मेलन का होगा आयोजन
पीएम मोदी ने भारत और स्वीडन मंगलवार को ही पहले इंडिया-नोरडिक शिखर सम्मेलन की सह अध्यक्षता करेंगे। इसमें मोदी और लोवेन के अलावा चार नोरडिक देश डेनमार्क, फिनलैंड, आइसलैंड और नॉर्वे के प्रधानमंत्री भी मौजूद रहेंगे। मोदी शिखर सम्मेलन से इतर चार अन्य नोरडिक देशों के नेताओं के साथ अलग अलग द्विपक्षीय बैठक करेंगे। इसके अलावा मोदी और लोवेन, स्वीडन की कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ गोलमेज वार्ता में भाग लेंगे।

स्वीडन से लंदन होंगे रवाना
मोदी स्वीडन से ब्रिटेन के लिए रवाना होंगे, जहां वह ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे के साथ 18 अप्रैल को द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। वह अपनी यात्रा के दूसरे चरण के लिए लंदन रवाना होने से पहले मंगलवार देर रात को स्टॉकहोम विश्वविद्यालय में भारतीय समुदाय के सम्मेलन में भी शामिल होंगे।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned