यौन उत्पीड़न की जानकारी देना अब हुआ अनिवार्य, पोप फ्रांसिस ने बदला चर्च का कानून

यौन उत्पीड़न की जानकारी देना अब हुआ अनिवार्य, पोप फ्रांसिस ने बदला चर्च का कानून

Anil Kumar | Publish: May, 10 2019 01:10:36 AM (IST) यूरोप

  • पोप फ्रांसिस ने कैथोलिक चर्च के लिए नए नियम की घोषणा की है।
  • इस नियम को लागू करने के लिए दुनिया भर के कैथोलिक चर्च को व्यवस्था करनी होगी।
  • चर्च के कई पादरियों पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगे हैं।

 

वेटिकन सिटी। वेटिकन सिटी के पोप फ्रांसिस ने पूरे कैथोलिक चर्च के लिए गुरुवार को एक नए कानून की घोषणा की। इस नए कानून के मुताबिक अब यौन उत्पीड़न ( sexual harassment ) की जानकारी देना अनिवार्य होगा। पोप फ्रांसिस ने नए कानून की घोषणा करते हुए कहा कि यौन उत्पीड़न के मामले में जिसे भी कोई जानकारी हो या इसका संदेह हो, उसके लिए यह आवश्क है कि फौरन चर्च को इसकी जानकारी दें। इस नए दस्तावेज को ‘मोटो प्रोपरियो’ नाम दिया गया है। अब वेटिकन सिटी ( Vatican City ) की ओर से प्रकाशित इस नए कानून के तहत पूरी दुनिया के डोयोसिस को यौन उत्पीड़न के मामलों की रिपोर्ट करने के लिए एक व्यवस्था बनानी होगी।

पोप फ्रांसिस ने गर्भपात को लेकर दिया ये चौंकाने वाला बयान

इस परिस्थिति में लागू नहीं होगा यह नियम

पोप फ्रांसिस ( Pope Francis ) ने नए कानून की घोषणा करते हुए कहा कि यदि कोई पादरी के सामने अपने अपराध को स्वीकार करता है तो उस दौरान किए गए खुलासों पर यह नियम लागू नहीं होगा। उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि हम अपने अतीत के बुरे अनुभवों से सीखें और उससे बचने के लिए बेहतर उपाय करें। पोप ने यह भी कहा कि यह नया कानून केवल चर्च के अंदर लागू है और किसी भी व्यक्ति को यह बाध्य नहीं करता है कि वह यौन उत्पीड़न की जानकारी प्रशासन को दें। बता दें कि हाल के दिनों व उससे पहले भी कई ऐसे मामले सामने आए हैं जिसमें चर्च के पादरी पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगे हैं। भारत में केरल के एक चर्च के पादरी मुलक्कल पर ननों ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे।

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned