फ्रांस में आतंकी हमला, आईएस के हमलावर ने चाकू से ली जानें

Dharmendra Chouhan

Publish: Oct, 02 2017 11:45:40 (IST) | Updated: Oct, 02 2017 11:57:06 (IST)

Europe
फ्रांस में आतंकी हमला, आईएस के हमलावर ने  चाकू से ली जानें

फ्रांस के मार्शेली शहर के मुख्य रेलवे स्टेशन पर आतंकी संगठन आईएस के एक सदस्य ने दो महिलाओं पर चाकू से हमला कर हत्या कर दी।

मार्सेए (फ्रांस ). फ्रांस के मार्शेली शहर के मुख्य रेलवे स्टेशन पर आतंकी संगठन आईएस के एक सदस्य ने दो महिलाओं पर चाकू से हमला कर हत्या कर दी। हमलावर ने अल्लाह-हू-अकबर चिल्लाते हुए महिलाओं की जान ले ली। इस हमले के बाद वहां गश्त कर सैनिकों ने हमलावर को गोली मार दी। चश्मदीद 18 वर्षीय मेलानी पेटिट ने बताया कि मैं स्टेशन के सामने थी। मैंने देखा हमलावार अल्लाह-हू-अकबर के नारे लंगा रहा था। उस आदमी ने काले कपड़े पहन रखे थे। इस हमले के बाद पुलिस ने रेल टर्मिनस को खाली कराकर सील कर दिया है। मार्सेय पुलिस ने लोगों से अपील की है कि वे सेंट चार्ल्स स्टेश के आसपासन जाएं। फ्रांस के गृहमंत्री जेरार्द कोलोंब ने ट्विटर पर बताया है कि वे तत्काल मार्सेय पहुंच रहे हैं।

is

 इस्लामिक स्टेट ने ली हमले की जिम्मेदारी
आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने फ्रांस के मार्सेय शहर के प्रमुख ट्रेन स्टेशन के बाहर चाकू से किए हमले की जिम्मेदारी ली है। इस हमले में दो महिलाओं की मौत हो गई है। इस्लामिक स्टेट ने कहा है कि चाकू से हमला करने वाला हमलावर उनका व्यक्ति था। हमला करने वाले की उम्र करीब 30 वर्ष थी। सैनिकों ने हमले के बाद इसे तुरंत गोली मारकर ढेर कर दिया। जिन सैनिकों ने आतंकी को ढेर किया उन्हें सेन्टीनेल कहा जाता है। सेन्टीनेल आतंकवाद प्रभावित फ्रांस में अतिसंवेदनशील क्षेत्रों की निगरानी करते हैं।

isis

पिछले साल ट्रक हमले में 84 की मौत
पिछले साल जुलाई में फ्रांस के नीस शहर में फ्रेंच रिवेरा रिसॉर्ट के पास एक तेज रफ्तार ट्रक भीड़ में जा घुसा था, जिसमें कम से कम 84 लोगों की मौत हो गई थी। हताहत हुए लोग नेशनल डे के मौके पर होने वाली आतिशबाजी देखकर लौट रहे थे। सुरक्षा बलों ने ट्रक ड्राइवर को मार गिराया गया था। ट्रक से भारी मात्रा में बंदूकें और दूसरे हथियार बरामद हुए थे। वहीं ट्रक में फ्रेंच- ट्यूनीसियाई पहचान पत्र मिला था। फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने इस हमले को आतंकी वारदात करार देते हुए कहा था कि इस हमले पर आतंकवाद की स्पष्ट छाप दिखती है। उन्होंने इसके साथ ही उन्होंने देश में लागू आपातकाल को तीन महीने के लिए बढ़ा दिया था।

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned