ब्रिटेन: बिजली कटौती में साइबर हमले की भूमिका को नाकारा

ब्रिटिश नेशनल ग्रिड ने दिया बयान, कटौती से दस लाख लोग प्रभावित हुए

By: Mohit Saxena

Updated: 11 Aug 2019, 04:14 PM IST

लंदन। ब्रिटिश नेशनल ग्रिड का कहना है कि शुक्रवार को बड़े पैमाने पर बिजली कटौती के लिए वह साइबर हमले को जिम्मेदार नहीं मानता है। इस कटौती से वेल्स् के लगभग दस लाख लोग प्रभावित हुए हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नेशनल ग्रिड के संचालन निदेशक डंकन बर्ट ने शनिवार को बताया कि दो पावर स्टेशनों में अविश्वसनीय रूप से कट लगने से सिस्टम ने काम करना बंद कर दिया। उन्हें नहीं लगता है कि साइबर हमले या अप्रत्याशित पवन ऊर्जा उत्पादन को दोष देना चाहिए।

नॉर्वे: मस्जिद में वर्दी और हेल्मेट पहने शख्स ने की गोलीबारी, दो घायल

दोषी पाए जाने वालों पर कार्रवाई संभव

इस मामले में कहा गया है कि दोषी पाए जाने वालों पर कार्रवाई हो सकती है। इसमें जुमार्ना भी शामिल है। बिजली गुल होने की घटना के कारण ट्रेन में यात्री फंसे रहे। ट्रैफिक लाइट काम करने में विफल रही और हजारों घरों में बिजली चली गई।

ऊर्जा विभाग के प्रवक्ता के अनुसार नेशनल ग्रिड को 'तत्काल समीक्षा' करनी चाहिए कि क्या हुआ था और उसे रिपोर्ट का इंतजार है। ट्रेन से जाने वाले यात्रियों को देरी का सामना करना पड़ा। शुक्रवार को इंग्लैंड और वेल्स में बड़े पैमाने पर बिजली गुल होने से यात्रा को लेकर अराजकता का माहौल बन गया।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned