ब्रेक्सिट समझौते के आलोचकों पर बरसी थेरेसा मे, कहा- लोकतंत्र को डाल रहे खतरे में

ब्रेक्सिट समझौते के आलोचकों पर बरसी थेरेसा मे, कहा- लोकतंत्र को डाल रहे खतरे में

Shweta Singh | Publish: Jan, 06 2019 02:04:00 PM (IST) यूरोप

रविवार को एक मेल के जरिए मे ने कहा कि अगर उनके आलोचक उनकी योजना का विरोध करते हैं, तो इससे लोकतंत्र को नुकसान पहुंचेगा।

लंदन। ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने सांसदों से उनके ब्रेक्सिट समझौते का समर्थन करने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि यह जनमत संग्रह परिणाम का सम्मान करने और अर्थव्यवस्था की रक्षा करने का एकमात्र तरीका है। मीडिया रिपोर्ट में बताया गया कि रविवार को एक मेल के जरिए मे ने कहा कि अगर उनके आलोचक उनकी योजना का विरोध करते हैं, तो इससे लोकतंत्र को नुकसान पहुंचेगा।

अगले हफ्ते होगी ब्रेक्जिट योजना पर वोटिंग

सांसदों को अगले सप्ताह इस मसले पर वोट करना है कि ब्रेक्सिट योजना का समर्थन करें या नहीं। ब्रिटेन 29 मार्च को यूरोपीय संघ (ईयू) से अलग होने वाला है, चाहे यूरोपीय संघ के साथ कोई समझौता हो या न हो। मे ने कहा, 'जनमत संग्रह के परिणाम का सम्मान करने और नौकरियों और सुरक्षा की रक्षा करने का एकमात्र तरीका यही है कि समझौते का समर्थन किया जाए।' उन्होंने कहा, 'किसी और के पास कोई वैकल्पिक योजना नहीं है' जो यूरोपीय संघ के जनमत संग्रह के परिणाम पर आधारित हो, नौकरियों की सुरक्षा करती हो और व्यवसायों को निश्चिंतता प्रदान करती है।

समझौते पर बहस बुधवार को फिर होगी शुरू

समझौते में ब्रिटेन के ईयू से अलग होने और भविष्य के संबंधों को लेकर एक रूपरेखा पर प्रधानमंत्री और यूरोपीय संघ के बीच सहमति बन गई है, लेकिन इसे स्वीकार किए जाने से पहले संसद में सांसदों द्वारा वोट पारित करने की आवश्यकता है। गौरतलब है कि हाउस ऑफ कॉमन्स द्वारा दिसंबर में वोट किया जाना था, लेकिन यह स्पष्ट होने के बाद कि पर्याप्त संख्या में सांसद उनके समझौते के लिए वोट नहीं करेंगे, मे ने इसे रद्द कर दिया। इस समझौते पर बहस बुधवार को फिर से शुरू होगी। 15 जनवरी को अहम वोट होने की उम्मीद है।

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned