फैजाबाद में लगातार अपहरण की दूसरी बड़ी वारदात इस बार तीन साल की मासूम बनी शिकार

तीन साल की मासूम घर के बाहर खेलते खेलते अचानक हो गयी लापता 48 घंटे बाद भी नही लगा कोई सुराग

By: अनूप कुमार

Published: 25 Apr 2018, 10:56 AM IST


फैजाबाद : जिले के अयोध्या कोतवाली क्षेत्र में अपहृत 10 साल के दीपांशु को बरामद करने के बाद पुलिस अभी सहज नहीं हो पाई थी कि एक और मासूम के लापता होने की घटना ने चौंका दिया है.संदिग्ध परिस्थितियों में एक तीन साल की मासूम बालिका लापता हो गयी है.घटना महराजगंज थाना क्षेत्र के राजेपुर गांव की है.बच्ची को लापता हुए 48 घंटे से अधिक का वक्त बीत चुका है, लेकिन अबतक पुलिस उसे तलाश नहीं सकी है.मामला बच्ची का होने के कारण और भी गंभीर है जिसके कारण फैजाबाद पुलिस का तनाव बढ़ता जा रहा है .अयोध्या विधायक वेदप्रकाश गुप्त व एसएसपी सुभाष सिंह बघेल ने पीड़ित परिवार से मिलकर घटना के बारे में जानकारी हासिल की तथा भरोसा दिलाया कि बच्ची को जल्द से जल्द से बरामद कर लिया जाएगा. वहीँ महज 3 साल की मासूम के लापता होने से माँ बाप का रो रो कर बुरा हाल है .

तीन साल की मासूम घर के बाहर खेलते खेलते अचानक हो गयी लापता 48 घंटे बाद भी नही लगा कोई सुराग

अयोध्या कोतवाली क्षेत्र से अपहृत छात्र के बरामदगी के बाद पुलिस सहज भी नहीं हो पायी थी कि जिले के महराजगंज थाना इलाके से एक मासूम बालिका लापता हो गयी है.थाना महराजगंज के राजेपुर गांव के रहने वाले एक व्यक्ति की तीन वर्षीय बेटी 22 अप्रैल को रहस्यमय परिस्थितियों में लापता हो गई. परिवारीजनों के मुताबिक मासूम खाना खाने के बाद घर के बाहर खेल रही थी. खेलते-खेलते वह अचानक लापता हो गई.काफी तलाश करने के बाद भी जब उसका पता नहीं चला तो पुलिस को सूचना दी गई.सक्रिय हुई महराजगंज पुलिस ने भी बच्ची की तलाश की, लेकिन उसका पता नहीं चला.मासूम की गुमशुदगी की प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस ने आसपास के जिलों की पुलिस से भी संपर्क साधा है.परिवारीजनों ने घटना को लेकर अनहोनी की आशंका जाहिर की है.पुलिस अधीक्षक ग्रामीण संजय कुमार, सीओ सिटी अरविन्द चौरसिया, सीओ सदर वीरेंद्र विक्रम सिंह, थाना प्रभारी निरीक्षक जगदीश उपाध्याय की टीम मासूम बच्ची को तलासने में जुटी हुई है.पुलिस टीम ने गांव के खेत-खलिहान, तालाब-गड्ढा, कुआं, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन आदि स्थानों पर जाकर पूछताछ की है लेकिन बच्ची का कंही पता नहीं चला.पुलिस का सर्च अभियान लगातार जारी है.बेटी की गुमशुदा होने की सूचना पाकर अहमदाबाद में नौकरी कर रहे किंजल के पिता जितेंद्र भी घर पहुच चुके है.

Show More
अनूप कुमार Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned