Live Video : या हुसैन की सदाओं के बीच फैजाबाद में निकला चेहल्लुम का जुलुस

या हुसैन की सदाओं के बीच शुक्रवार को फैजाबाद में मुहर्रम के 40वें दिन चेहल्लुम का जुलुस बेहद गमजदा माहौल में शहर के प्रमुख मार्गों से होकर गुजरा

By: अनूप कुमार

Published: 10 Nov 2017, 06:19 PM IST


फैजाबाद . या हुसैन की सदाओं के बीच शुक्रवार को फैजाबाद में मुहर्रम के 40वें दिन चेहल्लुम का जुलुस बेहद गमजदा माहौल में शहर के प्रमुख मार्गों से होकर गुजरा , ये जुलुस शहर के राठ हवेली से शुरू होकर परम्परागत रूप से चौक, सुभाष नगर ,फ़तेह गंज होते हुए मकबरा चौराहे तक पहुंचा , इस दौरान मुस्लिम समुदाय के शिया समाज के भाइयों ने कर्बला की सरजमी पर अपने 72 रिश्तेदारों सहित शहीद हुए मुहम्मद साहब के नवासे इमाम हुसैन की याद में गम मनाया और जुलुस निकाल कर अपना दुःख प्रकट किया , गमजदा मुस्लिमों ने सीनाजनी करते हुए इमाम हुसैन को याद किया, शहर के इमामबाड़े से निकला चेहल्लुम का जुलूस गुदड़ी बाजार चौक होता हुआ कर्बला पहुचा जँहा इमाम हुसैन की याद में 40वां मनाया गया, मुस्लिम समुदाय की मान्यता के अनुसार मुहर्रम के 40 वें दिन चेहल्लुम का जुलूस निकाला जाता है, इस दौरान गमजदा लोगों ने इमाम हुसैन की याद में सीनाजनी करते हुए मातम मनाया .इस दौरान मीडिया से बात करते हुए प्रो मिर्ज़ा साहब ने बताया कि हिंदू मान्यता के अनुसार जिस तरह से व्यक्ति के निधन के बाद तेरहवीं का कार्यक्रम होता है उसी तरह से मुस्लिम मान्यता के अनुसार निधन के 40 वें दिन चेहल्लुम मनाया जाता है और मरने वाले की याद में फातिहा पढ़ा जाता है ,उसी कड़ी में फैजाबाद में आज ये आयोजन परम्परागत रूप से हुआ ,मुस्लिम समुदाय के इस गम के पर्व के मौके पर निकलने वाले चेहल्लुम के जुलूस की सुरक्षा के मद्देनज़र फैजाबाद जिला प्रशाशन ने सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए थे,जगह जगह चौराहे पर पुलिस के जवानो की तैनाती की गयी थी ,वहीँ जुलुस निकलने के मार्ग पर यातायात की असुविधा न होने इसके लिए जगह जगह से रूट डायवर्जन कर जुलुस को सकुशल निकाला गया .बताते चलने की फैजाबाद में ये परम्परा लम्बे समय से चली आ रही है और प्रति वर्ष मुहर्रम के बाद चालीसवें दिन चेहल्लुम कालूस निकाला जाता है .

अनूप कुमार Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned