दाने दाने के मोहताज हो रहे अन्नदाता

खेतों पर छुट्टा जानवरों का आतंक से किसानो ने छोड़ा खेती अब भगवान के भरोसे हो रहा जीवन यापन

By: Satya Prakash

Published: 24 Jul 2018, 07:35 PM IST

अयोध्या : खेतों पर छुट्टा जानवरों का आतंक से किसानो ने छोड़ा खेती अब भगवान के भरोसे हो रहा जीवन यापन. अयोध्या के सटे लगभग दर्जनों गाँव है जिसमे किसान अपना रोजी रोटी खेती से चलाते है लेकिन अब वह भी समाप्त होता जा रहा है और सभी किसान भुखमरी के कगार पर है इसको लेकर कई बार जिला प्रशासन से गुहार लगाया गया लेकिन किसी प्रकार की कार्यवाही नहीं किया गया जिसका कारण यह है कि चारो तरफ हरा भरा दिखने वाला खेत अब सिर्फ मैदान बन गया है.

छुट्टा जानवरों से परेशान है किसान

अयोध्या से सटे गाँव के किसान पर पहले तो मानसून का प्रकोप रहा जिससे किसी भी फसल की बुवाई कर पाना कठिन हो गया तथा वहीं किसानो का आरोप भी है कि अयोध्या में दर्जनों गौशाला है जो कि सिर्फ दूध निकलने के समय गौशालाओ में रखते है तथा गौवंशो द्वारा पैदा हो रहे नर को अयोध्या बगल खेतो में छोड़ कर चले जाते है तथा साथ ही वर्ष में होने वाले मिले में भी अयोध्या गुमने वाले पशुओ को भी खेतो के तरफ खदेड़ दिया जाता है तो ऐसे में खेती करना सम्भाव नहीं है.

किसानो ने मदद के लिए सरकार से लगाई गुहार

रामलाल ने बताया कि इन छुट्टा जानवरों के कारण किसी प्रकार से खेती नहीं कर पा रहे है अब हम लोग सभी दाने दाने के लिए मोहताज हो गए है जैसे ही कोई भी फसल खेतो में लगाते है दर्जनों को संख्या में जानवर पहुच कर सब चार लेते है हम सरकार से यह आशा लगाये है कि किसी प्रकार से कोई हम किसानो की मदद करे जिससे हमारे परिवार को रोजी रोटी चल सके. तथा माझा बरहटा में रहने वाले भगवान दास यादव ने बताया कि खेतो में सैकड़ो की संख्या जानवर चरते है जिसके कारण अब लगभग वर्षो से खेती नहीं कर पा रहे है हम लोग फसल के लिए जो भी कर्ज लाते है वह भी नहीं भर पाते है अगर जल्द कोई व्यवस्था नहीं हुआ तो किसान भूखो मर जायेंगे. तथा राम शंकर ने बताया कि जानवरों के कारण अब कोई खेती नहीं कर पा रहा है लोग जानवरों को लाकर छोड़ देते है इसके लिए प्रशासन से भी बताया गया तो वह कोई ध्यान नहीं दे रहे है ऐसे में किसान अब किसके पास जाये कोई सुनने वाला नहीं है

Satya Prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned