जानलेवा बन रही सडकों पर जानवरों की बढती तादात

शहर  की सड़कों पर दर्जनों की संख्या में खड़े ये जानवर कभी किसी पर हमलावर हो जाते हैं तो कभी किसी वाहन से टकराकर हादसे की वजह बन जाते हैं

By: अनूप कुमार

Published: 11 Sep 2017, 01:06 PM IST

फैजाबाद . प्रदेश सरकार ने गोवंश की सुरक्षा और उनकी निर्मम ह्त्या को रोकने के लिए अवैध बूचड़खानों पर पूरी तरह से प्रतिबन्ध लगा दिया और सख्त निर्देश दिए की प्रतिबंधित जानवरों को अगर कोई काटता पाया जाए तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए . प्रदेश सरकार के इस निर्णय और निर्देश की सराहना भी हुई और काफी हद तक अवैध बूचडखानो और पशुओं के अनाधिकृत वध पर रोक भी लगी . लेकिन अब प्रदेश सरकार की गो रक्षा की मंशा पर सवाल उठाने लगे हैं वजह यह है कि जानवरों की संख्या लगातार बढती जा रही है और इन्हें कहीं रखने की समुचित व्यवस्था न होने के कारण ग्रामीणों इलाकों में यह फसलों को खा रहे हैं और शहरी इलाकों में ये हादसों की वजह बन रहे है . शहर के रिहायशी और पाश इलाकों की सड़कों पर दर्जनों की संख्या में खड़े ये जानवर कभी किसी पर हमलावर हो जाते हैं तो कभी किसी वाहन से टकराकर हादसे की वजह बन जाते हैं .

जिले में आवारा पशुओं से सिर्फ किसान ही नहीं शहर के लोग भी परेशान है फैजाबाद शहर के मुख्य मार्गो पर जरा ध्यान से देखिए ये आवारा जानवर किस तरह से बेफिक्र होकर खुलेआम घूमे कर रहे हैं. शहर में सैकड़ों आवारा जानवर सड़कों पर घूम रहे हैं.आए दिन सड़क दुर्घटनाएं हो रही है कभी स्थानीय लोग इसका शिकार होते हैं तो कभी खुद जानवर .आम आदमी को इन आवारा पशुओं से दिक्कत ही नहीं है बल्कि यह आवारा पशु शहर की शान में भी बट्टा लगा रहे हैं . जहां देखिए वँहा जानवर घूमते रहते हैं कभी किसी की साइकिल से या मोटरसाइकिल से सब्जियां खा जाते है तो कहीं ये बाइक को गिरा भी देते हैं लेकिन नगर निगम के पास इन आवारा पशुओं के लिए कोई व्यवस्था नहीं है . जनप्रतिनिधि तो कहते रहते हैं कि सरकार योजना ला रही है गौशालाएं और कांजी हाउस के लिए सरकार को प्रस्ताव गए हैं लेकिन ये एक लम्बी प्रक्रिया है भाजपा विधायक रामचंद्र यादव मानते हैं कि अभी इन प्रस्तावों को पास होने में लगभग 1 साल लग जाएंगे . अगर सरकार ने जल्द ही कोई कदम नही उठाया तो इन 1 सालों में इन आवारा पशुओं की तादाद दोगुने से ज्यादा हो जाएगी, वो दिन दूर नहीं जब सड़कों पर आम आदमी नहीं ये आवारा पशु ही नजर आएंगे.

Show More
अनूप कुमार Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned