तफ्तीश : सात जन्मो तक साथ निभाने का वादा करने वाली पत्नी ने ही कथित प्रेमी से करवा दी पति की हत्या

तफ्तीश : सात जन्मो तक साथ निभाने का वादा करने वाली पत्नी ने ही कथित प्रेमी से करवा दी पति की हत्या

Anoop Kumar | Publish: Jan, 14 2018 12:58:20 PM (IST) | Updated: Jan, 14 2018 02:08:45 PM (IST) Faizabad, Uttar Pradesh, India

नाजायज़ रिश्तों ने गढ़ी एक बेक़सूर के क़त्ल की खौफ़नाक कहानी पत्नी के सामने तड़प तड़प कर मरा पति

अनूप कुमार
फैजाबाद .पति पत्नी के रिश्ते के बीच किसी तीसरे की आमद की खौफनाक आहट और खूनी अंजाम की दर्दनाक दास्तां सामने आई है .फैजाबाद में जहां पर एक पत्नी पर ही अपने पति का कत्ल करवाने का इल्जाम लगा है .दर्दनाक बात यह भी है की पत्नी ने इस वारदात में अपनी भूमिका को भी कबूल कर लिया है . इस जघन्य हत्याकांड की वारदात में शामिल कलयुगी पत्नी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है .वही इस महिला के कथित प्रेमी की पुलिस को सरगर्मी से तलाश है . वारदात बीते 9 जनवरी की रात को फैज़ाबाद के ग्रामीण क्षेत्र खंडासा के अमानी गंज बाज़ार इलाके में अंजाम दी गई थी जहां पर घर में घुसे अज्ञात हत्यारे ने एक युवक की लाठी डंडों से पीटकर हत्या कर दी थी और फरार हो गए थे . वहीं इस वारदात में मृत युवक की पत्नी ने अज्ञात चार लोगों के खिलाफ लूट और हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था लेकिन पुलिस की पड़ताल में कहानी कुछ और ही निकली और इस वारदात की सूत्रधार पत्नी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है .

नाजायज़ रिश्तों ने गढ़ी एक बेक़सूर के क़त्ल की खौफ़नाक कहानी पत्नी के सामने तड़प तड़प कर मरा पति

पुलिस की पूछताछ में जो कहानी सामने आई है उसमें खंडासा थाना क्षेत्र के अमानीगंज बाजार में रहने वाले ई-रिक्शा व्यवसाय विजय तिवारी उर्फ बबलू का व्यावसायिक लेन देन कानपुर के रहने वाले राकेश यादव पुत्र राम वीरम निवासी रामकृष्ण नगर कानपुर से था ई-रिक्शा की खरीद-फरोख्त के लिए विजय ने राकेश को डेढ़ लाख रूपय भी दिए थे लेकिन रिक्शा की डिलीवरी नहीं हो रही थी . इस सिलसिले में अक्सर विजय राकेश को फोन कर माल की डिलीवरी के लिए दबाव बना रहा था . इसी बीच फोन के जरिए ही आरोपी राकेश यादव की जान पहचान मृतक विजय तिवारी की पत्नी ज्योति उर्फ बेबी से हो गई . फोन पर बातचीत के जरिए ही दोनों के बीच रिश्ते गहरा गए और उसके बाद दोनों मोबाइल फोन पर ही लंबी लंबी बातें करने लगे . पति पत्नी के पवित्र रिश्ते के बीच तीसरे की आमद ने इस पवित्र रिश्ते में जहर घोलने का काम किया और पत्नी और उसके कथित प्रेमी ने ज्योति के पति विजय तिवारी को रास्ते से हटाने की योजना बना डाली .जिसके बाद पहले से तय शुदा प्लान के तहत इस वारदात की सूत्रधार आरोपी पत्नी ज्योति ने फोन के जरिए हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले राकेश यादव को कानपुर से फैजाबाद के खंडासा अमानीगंज बाजार में बुलाया .

रात के अंधेरे में पत्नी ने दरवाजा खोलकर हत्यारे प्रेमी को बुलाया घर में और वारदात के बाद बाइक की चाबी देकर कर दिया था रवाना

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक वारदात वाली रात करीब 10:00 बजे हत्या के आरोपी राकेश यादव को आरोपी ज्योति ने ही दरवाजा खोलकर घर के अंदर दाखिल होने की इजाजत दी थी, जिसके बाद दरवाजा खोलते ही राकेश ने हाकी से बबलू के सिर पर वार कर दिया जिससे वह बेहोश हो गया . उसके बाद किसी भारी चीज से बबलू के सिर पर कई बार वार किया गया जिससे बबलू की मौके पर ही मौत हो गई . आरोपी पत्नी ने अपने कथित प्रेमी को घर के सामने खड़ी मोटरसाइकिल की चाबी दे दी और आरोपी राकेश यादव मोटरसाइकिल लेकर के रुदौली रेलवे स्टेशन पहुंच गया . जहां स्टेशन के बाहर मोटरसाइकिल खड़ी करने के बाद आरोपी ट्रेन से वापस कानपुर भाग गया . वारदात के बाद हत्यारिन पत्नी ने ही 100 नंबर पर पुलिस को सूचना देकर घटना की जानकारी दी ,अपने पति को लेकर अस्पताल गई और अज्ञात लोगों के खिलाफ लूट और हत्या का मुकदमा भी लिखा दिया . इस पूरे मामले में पुलिस को पत्नी के ऊपर उस समय शक हुआ था जब उसने बताया कि हत्यारों ने उसके पति की हत्या कर दी और उसे छुआ भी नहीं . जिसके बाद कॉल डिटेल के जरिए पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा कर दिया . पुलिस ने इस मामले में आरोपी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है उसका कथित प्रेमी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है और पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है .

Ad Block is Banned