पुरानी रंजिश को लेकर युवकों में फायरिंग,एक गंभीर

पंजाब के कस्बा डेराबस्सी के गांव हरिपुर कुड़ां में पुरानी रंजिश को लेकर युवकों के एक गुट द्वारा दिनदहाड़े हुई फायरिंग

By: युवराज सिंह

Published: 22 Sep 2016, 01:42 PM IST

चंडीगढ़। राजधानी चंडीगढ़ के निकट पंजाब के कस्बा डेराबस्सी के गांव हरिपुर कुड़ां में पुरानी रंजिश को लेकर युवकों के एक गुट द्वारा दिनदहाड़े हुई फायरिंग में एक युवक गंभीर रुप से जख्मी हो गया। उसकी बाजू समेत पेट पर गोलियां लगने से उसे डेराबस्सी सिविल अस्पताल से पीजीआई रैफर कर दिया गया है जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस ने मौके से ऑल्टो कार के साथ साथ एक देसी तमंचा जब्त किया है।

हमलावरों ने एक गंडासे का इस्तेमाल किया
जानकारी मुताबिक 25 वर्षीय दलबीर सिंह पुत्र सुखदेव सिंह वासी महमदपुर अपनी आल्टो कार में किसी काम से हरिपुर कुड़ां अकेला गया था। चश्मदीदों के मुताबिक दोपहर करीब पौने एक बजे एक फिगो कार में सवार चार युवकों ने रामचंद्र के घर के समीप उसकी कार को सामने से टक्कर मारकर रोक लिया। इनमें तीन युवक मौने व एक पटकाधारी सरदार था जो रिवाल्वर से लैस थे। उन्हें देख दलबीर ने कार के शीशे बंद कर लिए जिसे तोड़ने के लिए हमलावरों ने एक गंडासे का इस्तेमाल किया। हथियाबंद युवकों ने कार के शीशे तोड़े और चालक को गोलियों का निशाना बनाया। करीब एक दर्जन गोलियां चलाई गईं। गोलियों की आवाज थमने व दलबीर का शोर सुन लोग बाहर निकले। उसे पार्षद रविंदर बतरा ने अपनी कार में डेराबस्सी अस्पताल पहुंचाया।


दोनों गुटों के पास अवैध असलाह
एसएचओ दीपइंदर सिंह ने बताया यह रिवाल्वर जख्मी दलबीर का है जो इस्तेमाल करने के बाद खाली हुआ होगा। यानी दलबीर ने बचाव में गोलियां चलाई थीं। मौके से तीन गोलियों के तीन खोल व एक जिंदा कारतूस भी बरामद हुआ है। दोनों गुटों के पास अवैध असलाह है। एसएचओ के अनुसार मामले के तार पुरानी रंजिश से जुड़े हैं। कुछ दिन पहले दोनों गुटों के समर्थकों के बीच एक दुकान पर तीखी तकरार भी हुई थी। बुधवार का गोलीकांड उसका नतीजा है। तीन गोलियां दलबीर की बाजू पर लगी हैं। वह अभी बयान देने में अनफिट है। आज हुए गोलीकांड में क्रास एफआईआर में दर्ज आरोपियों के शामिल होने के चांस कम हैं परंतु पुलिस पड़ताल के लिए नए पुराने सभी आरोपियों की धरपकड़ के लिए दबिश कर रही है।

दो दर्जन युवकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज
बीती 13 अगस्त की रात भी दो गुटों में डेराबस्सी इस्सापुर रेलवे फाटक पर झड़प के बाद फायरिंग हुई थी। इसमें पेट में दो गोली लगने से गुप्पी के अलावा दोनों गुटों से कुल चार युवक जख्मी हो गए थे। पुलिस ने दो दर्जन युवकों के खिलाफ जानलेवा हमले की क्रास एफआईआर दर्ज हो चुकी है परंतु गिरफ्तारी किसी की नहीं हुई। गुप्पी पक्ष से यह एफआईआर दलबीर के बयान पर दर्ज की गई थी जिसे आज बुधवार को गोलियां का शिकार बनाया गया।
Show More
युवराज सिंह Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned