पंजाब के मुख्य सचिव ने मांगी माफी, विवाद समाप्त

पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत बादलने कहा- करन अवतार की तरफ से उन से तीन बार माफी मांगी गई।

By: Bhanu Pratap

Published: 27 May 2020, 09:27 PM IST

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्य सचिव करन अवतार सिंह और मंत्रियों बीच चला आ रहा झगड़ा आखिर खत्म हो गया है। मुख्य सचिव ने आज मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व में हुई कैबिनेट बैठक दौरान सभी मंत्रियों से माफी मांग ली है। कैबिनेट बैठक के बाद पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने बताया कि मुख्य सचिव की तरफ से माफी मांगने के बाद यह विवाद खत्म हो गया है। उन्होंने कहा कि करन अवतार की तरफ से उन से तीन बार माफी मांगी गई। जब यह विवाद हुआ था तो तब पहली बार मुख्य सचिव ने उन को फ़ोन करके, दूसरी बार उनके गांव बादल पहुंच कर और तीसरी बार आज उन्होंने कैबिनेट से फिर अपने व्यवहार के लिए माफी मांग ली है । उन्होंने कहा कि लॉकडाउन संबंधित अभी तक कोई आखिरी फैसला नहीं हुआ है।

माफ न करें तो अहंकार

मनप्रीत ने कहा कि मनुष्य से गलती हो जाती है और मनुष्य गलती का पुतला है। यदि कोई तीन बार माफी मांगे और उसे कोई माफ न करे तो वह मनुष्य अहंकार में होता है। इसलिए पंजाब कैबिनेट ने करन अवतार सिंह के व्यवहार को नज़र -अंदाज़ कर दिया है। इसके साथ ही यह विवाद भी खत्म हो गया है। मंत्री ने कहा कि यह कोई पहला मामला नहीं है जब मंत्रियों और अफसरशाही बीच विवाद हुआ हो, इस से पहले भी कई ऐसे मामले हो चुके हैं। उन कहा कि विधायक का कार्यकाल 5 वर्ष का होता है जबकि अफसर का 35 वर्ष का है। लिहाज़ा विधायक ने लोगों को जवाब देना होता है, इसलिए वह जल्दी में होते हैं।

Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned