पंजाब को बदनाम कर रहीं ये दो ‘प्रजातियां’

जमकर हो रही रिश्वतखोरी, पंजाब विजिलेंस ब्यूरो द्वारा रंगेहाथ पकड़े जाने का भी भय नहीं

By: Bhanu Pratap

Published: 01 Jul 2020, 12:11 PM IST

चंडीगढ़। पंजाब में भ्रष्टाचार खूब हो रहा है। पंजाब सतर्कता अधिष्ठान (पंजाब विजिलेंस ब्यूरो) भ्रष्टाचारियों का पीछा कर रहा है। इसके बाद भी भ्रष्टाचारी हैं कि मान नहीं रहे हैं। पंजाब पुलिस के एएसआई और विभिन्न विभागों के क्लर्क जमकर रिश्वतखोरी कर रहे हैं। हाल यह हो गया है कि रंगेहाथ पकड़े जाने का भी भय नहीं है। रंगेहाथ वही पकड़े जा रहे हैं जो रिश्त के फिक्स रेट से अधिक पैसा मांगते हैं। खिसियाकर व्यक्ति शिकायत कर देता है और पकड़े जाते हैं। पंजाब में इस तरह के दो ताजा मामले प्रकाश में आए हैं।

केस-1

पंजाब विजिलेंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि स्पेशल एक्साइज़ सेल फिऱोज़पुर में तैनात ए.एस.आई गुरनाम सिंह को शिकायतकर्ता गुरमेज सिंह निवासी गाँव सवाय राय उताड़, जि़ला फिऱोज़पुर की शिकायत पर 5500 रुपए की रिश्वत लेते रंगेहाथों पकड़ा है। शिकायतकर्ता ने बताया कि नाजायज शराब सम्बन्धी उसके विरुद्ध केस न दर्ज करने के बदले उक्त ए.एस.आई द्वारा 10,000 रुपए की माँग की गई है और सौदा 7500 रुपए में तय हुआ है। शिकायतकर्ता ने कहा कि उसकी तरफ से 2000 रुपए पहली किश्त के तौर पर उक्त ए.एस.आई को अदा किये जा चुके हैं। विजिलेंस द्वारा शिकायत की जांच के उपरांत उक्त दोषी ए.एस.आई. को दो सरकारी गवाहों की हाजिऱी में दूसरी किस्त के 5500 रुपए की रिश्वत लेते मौके पर ही पकड़ लिया।

केस-2

इसी तरह रिश्वत के एक अन्य मामले में पी.एस.पी.सी.एल जैतो, फरीदकोट में तैनात खपतकार क्लर्क बलविन्दर सिंह को 2000 रुपए की रिश्वत लेते गिरफ़्तार किया गया है। ब्यूरो के एक प्रवक्ता ने बताया कि उक्त क्लर्क को शिकायतकर्ता बलदेव सिंह निवासी सादा पत्ती, जि़ला फरीदकोट की शिकायत पर गिरफ़्तार किया गया है। शिकायतकर्ता ने अपनी शिकायत में बताया कि उक्त क्लर्क की तरफ से उसका ट्यूबवेल शिफ्ट करने में मदद करने के बदले 2000 रुपए की माँग की गई है। विजिलेंस द्वारा शिकायत की पड़ताल के उपरांत उक्त दोषी क्लर्क को दो सरकारी गवाहों की हाजिऱी में 2000 रुपए की रिश्वत लेते हुये मौके पर ही पकड़ लिया। दोनों दोषियों के खि़लाफ़ भ्रष्टाचार रोकथाम कानून की विभिन्न धाराओं के अंतर्गत विजिलेंस ब्यूरो के थाना फिऱोज़पुर में मुकदमा दर्ज किया गया है।

Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned