देवर ने भाभी के साथ किया गंदा काम, साथ ही दरोगा ने भी किया यह, और फिर...

देवर ने भाभी के साथ किया गंदा काम, साथ ही दरोगा ने भी किया यह, और फिर...

Neeraj Patel | Updated: 21 May 2019, 02:29:43 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

चौकी इंचार्ज ने एक महिला के साथ घर में घुसकर दुष्कर्म की घटना को दिया अंजाम

दरोगा अनिल कुमार दुवे ने अंजू के देवर रावेन्द्र से सांठगांठ कर अंजू का शोषण करना शुरू कर दिया।

देवर और दरोगा ने मेरा मुंह बन्द करके कई बार बारी बारी से बलात्कार किया।

फर्रुखाबाद. जिले में योगी की पुलिस का शर्मनाक चेहरा सामने आया है अगर पुलिस महिलाओं की रक्षा करने की बजाए महिलाओं का शोषण करना शुरू कर देगी तो अपराधी और पुलिस में क्या फर्क रह जाता है। ऐसा ही मामला शहर कोतवाली क्षेत्र के एक राजा के नगला गांव का है जहां चौकी इंचार्ज ने एक महिला के साथ घर में घुसकर दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया और शिकायत करने पर महिला के साथ मारपीट भी की गई। अगर महिला को इंसाफ नहीं मिलता है तो वह पुलिस अधीक्षक ऑफिस के सामने आत्महत्या करेगी।

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी योगी सरकार बनते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए महिला स्क्वाड टीम का गठन किया था जिससे कि महिलाओं के साथ हो रही घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सके। वहीं देखा जा रहा है कि घटना को रोकने वाले ही घटना को अंजाम देने लगेंगे तो उत्तर प्रदेश में महिलाएं कहां सुरक्षित रहेगी।

आपको बताते चले कि महिला अंजू का परिवारिक बंटवारे के विवाद काफी समय से चल रहा था। अंजू की जमीन कुछ थाना कमालगंज क्षेत्र में आती है उसी थाने में तैनात दरोगा अनिल कुमार दुवे ने अंजू के देवर रावेन्द्र से सांठगांठ कर अंजू का शोषण करना शुरू कर दिया। जिसके चलते अंजू काफी परेशान रहने लगी। दरोगा अनिल कुमार दुवे अंजू के गांव जाकर सड़क के किनारे खड़े होकर महिला को देख कर गाना गाने लगा। अनिल कुमार दुवे की पोस्टिंग कोतवाली फतेहगढ़ के सेंट्रल जेल चौकी पर हो गई, जिसके बाद अंजू का अनिल दुवे ने और ज्यादा उत्पीड़न शुरू कर दिया।

महिला ने बताया कि उसने मेरे पति से कहा कि तुम कुछ नहीं कर पाते इसलिए अपनी पत्नी को मेरे पास दो दिन के लिए छोड़ दो। मामला खत्म कर दिया जाएगा। उसी बात को लेकर बात बढ़ गई हम लोगों में गाली गलौज होने लगी तो दरोगा ने चप्पल चला दी थी। जिसकी शिकायत मैंने कोतवाली और एसपी से की लेकिन कोई न्याय नहीं मिला इस बात से नाराज दरोगा रात को देवर के घर से छत के रास्ते मेरे घर में घुस आया मैं बेटी के साथ बाहर सो रही थी। देवर और दरोगा ने मेरा मुंह बन्द करके कई बार बारी बारी से बलात्कार किया बेटी चिल्लाती रही लेकिन किसी ने नहीं सुनी, मैं बेहोश हो गई थी जब होश आया तो बेटी रो रही थी।

जब इस घटना की शिकायत कोतवाली में की तो कोतवाल ने गाली देकर भगा दिया। एसपी से लेकर आईजी तक दरोगा व देवर की शिकायत की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। साथ ही बिना मुकदमा लिखे जांच सीओ सिटी को सौप दी है लेकिन इस घटना के बाद यूपी पुलिस के इस दरोगा ने अपने विभाग का नाम रोशन कर दिया है। वहीं एसपी डॉक्टर अनिल कुमार मिश्रा ने बताया कि महिला के प्रकरण की जांच की जा रही है। साथ आरोपी दरोगा को लाइन हाजिर कर दिया गया है जल्द ही जांच पूरी होने पर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned