जिला पंचायत अध्यक्ष उम्मीदवार पर मुकदमा दर्ज

जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए आगामी 3 जुलाई को होने वाले वोटिंग व मतगणना से पहले जिला पंचायत अध्यक्ष डा. सुबोध के खिलाफ समर्थकों सहित जिले के दो अलग थानों में एफआईआर दर्ज हुई हैं।

By: Abhishek Gupta

Published: 30 Jun 2021, 06:44 PM IST

फर्रुखाबाद. जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए आगामी 3 जुलाई को होने वाले वोटिंग व मतगणना से पहले जिला पंचायत अध्यक्ष डा. सुबोध के खिलाफ समर्थकों सहित जिले के दो अलग थानों में एफआईआर दर्ज हुई हैं। इसमें एक सांसद के भतीजे राहुल राजपूत तथा एक पत्रकार ने एफआईआर दर्ज कराई है। फिलहाल कमालगंज थाना में दर्ज एफआईआर सपा जिला पंचायत अध्यक्ष प्रत्याशी सुबोध यादव व साथी उमेश यादव सहित 14-15 अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 147, 148, 504, 307, 364,511 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया। वही दूसरा मुकदमा सदर कोतवाली में पत्रकार शरद कटियार नें सपा प्रत्याशी सुबोध यादव, धर्मराज सिंह, उमेश यादव, सौरभ पुत्र रमेश चन्द्र निवासी फतेउल्लापुर कमालगंज व 2-3 अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 147, 148, 149, 286, 504, 506 व 120-बी के तहत मुकदमा दर्ज कराया है।

सत्तारुढ़ भारतीय जनता पार्टी के सासंद मुकेश राजपूत के चचेरे भतीजे राहुल राजपूत ने कमालगंज थाना में सपा समर्थित प्रत्याशी डा0 सुबोध यादव सहित 14 से 15 लोगों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करवाई है। सांसद भतीजे राहुल ने दर्ज कराई गई एफआईआर में यह आरोप लगाया कि जब वह अपने चाचा के कहने पर कमालगंज ब्लाक के रहने वाले पार्टी समर्थक नवल पाल को बुलाने जा रहे थे और जैसे ही राहुल सफारी कार से रामलीला मैदान के पास पहुंचे, तो वहां पहले से घात लगाये बैठे चार पांच गाड़ियों से सुबोध यादव, उमेश यादव व 14- 15 अज्ञात असलाधारी लोगों के साथ गाड़ियों से उतरे। राहुल ने बिजली व गाड़ियों की रोशनी में उन्हें अच्छी तरह देखा और सामने आने पर पहचान सकते हैं।

जैसे ही राहुल अपनी गाड़ी से नीचे उतरे उन लोगों ने गाड़ी में सांसद मुकेश राजपूत को समझकर सांसद को गालियां देते हुए अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए फायरिंग शुरू कर दी लेकिन जैसे ही उन्होंने सांसद के बदले भतीजे राहुल को देखा तो पकड़ कर जान से मारने की नियत से खींचकर अपनी गाड़ी में डालने का प्रयास किया। उसी समय राहुल को बचाने गनर गाड़ी से नीचे उतरा, गनर को देखकर सुबोध यादव उमेश यादव व उनके साथियों ने राहुल पर जान से मारने की नियत से फायर किए। तभी ड्राइवर ने गाड़ी मोड़ कार भगा दी राहुल राजपूत भागकर गाड़ी में बैठ गए और किसी तरह अपनी जान बचाई।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned