देवर की शादी की चल रही थी रश्में, तभी मंडप पर पहुंच गई भाभी, और कह दी बड़ी बात और फिर...

देवर की शादी की चल रही थी रश्में, तभी मंडप पर पहुंच गई भाभी, और कह दी बड़ी बात और फिर...

Neeraj Patel | Publish: May, 13 2019 06:38:30 PM (IST) | Updated: May, 14 2019 12:49:22 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

पति की हत्या के बाद वह अपने देवर अजीत कुमार के साथ रहने लगी

अजीत ने उससे शादी करने का झांसा दिया और उससे शारीरिक सम्बन्ध बना लिए

भाभी ने देवर पर लगाए शारीरिक शोषण के आरोप

फर्रुखाबाद. जिले में देवर की शादी रुकवाने आई विधवा भाभी ने जमकर हंगामा किया। कानून की रक्षक कही जाने वाली पुलिस ने अपनी मौजूदगी में देवर का विवाह संपन्न करा दिया। पिछले तीन साल देवर की हविस का शिकार हो रही विधवा भाभी ठगी ठगी सी रह गई।थाना मोहम्मदाबाद के ग्राम खिमसेपुर के रहने वाले कुलदीप राजपूत का विवाह थाना जहानगंज के ग्राम वहोरा की रहने वाली पुष्पा राजपूत के साथ 5 मई 2011 को हुआ था। कुलदीप दिल्ली में नोकरी करता था। 16 जनवरी 2016 को कुलदीप की किसी ने दिल्ली में ही गोली मार कर हत्या कर दी थी।

कुलदीप की पत्नी पुष्पा का कहना है कि पति की हत्या के बाद वह अपने देवर अजीत कुमार के साथ रहने लगी। अजीत ने उससे शादी करने का झांसा दिया और उससे शारीरिक सम्बन्ध बना लिए। तब से अब तक वह अजीत के साथ पत्नी की तरह रह रही है। अजीत अपनी बारात थाना जहानगंज के ग्राम ककरैया में लेकर आया। उसकी शादी जूली पुत्री शीशराम राजपूत से होनी थी। देवर के द्वारा यौन उत्पीड़न का शिकार हुई विधवा भाभी पुष्पा व उसकी बहन तथा पिता ने अजीत की शादी रुकवाने का प्रयास किया। रात भर तीनों धरने पर बैठे रहे।

पुलिस ने अजीत का विवाह जूली के साथ संपन्न कराया

आज सुबह मौके पर पहुंची पुलिस ने अजीत का विवाह जूली के साथ संपन्न करा दिया। देवर की ज्यादती का शिकार हुई पुष्पा ठगी सी रह गई। वह मण्डप में कहने लगी न्याय, कानून यह सब गरीबों के लिए नहीं बने है। एक विधवा अपने साथ हुई ज्यादती का दुखड़ा रोती रही और कानून के रक्षकों के सामने पैसे वाले दुल्हनिया लेकर चले गए। उसने कहा कि देवर के विरुद्ध दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराने के लिए वह न्यायालय का दरवाजा खट खटाएगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned