शराबियों को पुलिस ने खदेड़ा तो गांववालों ने कर दिया पथराव

शराबियों को पुलिस ने खदेड़ा तो गांववालों ने कर दिया पथराव
Farrukhabad Police

Shatrudhan Gupta | Updated: 29 Oct 2017, 11:09:11 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

गांव वालों ने पुलिस पर देशी शराब के ठेके पर लूट कर 12 हजार रुपए गोलक से निकालने का भी गंभीर आरोप लगाया।

फर्रुखाबाद. नगर निकाय चुनाव व आदर्श आचार संहिता को देखते हुए पुलिस अब सख्ती बरतने लगी है। रविवार रात फर्रुखाबाद पुलिस ने शराब के ठेकों पर चेकिंग अभियान की शुरुआत की। थाना मऊदरबाजा के इस्पेक्टर व बघार चौकी प्रभारी संजय सिंह यादव पुलिस बल के साथ शराब के ठेके के बाहर सड़क पर शराब पी रहे लोगों को हिदायत देकर सड़क पर शराब न पीने की सलाह देकर वहां से भगा दिया। उस वक्त तो शराब पी रहे लोग चले गए, लेकिन कुछ देर बाद ही नाराज गांव वालों ने सड़क पर जाम लगा दिया। गांव वालों ने पुलिस पर देशी शराब के ठेके पर लूट कर 12 हजार रुपए गोलक से निकालने का भी गंभीर आरोप लगाया। इस दौरान पुलिस बल पर ग्रामीणों ने पथराव भी किया। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी हल्का बल प्रयोग कर ग्रामीणों को खदेड़ दिया।

लोगों का आरोपी, पुलिस ने ठेके पर की लूटपाट

लोगों की मानें तो पुलिस जिस समय ठेके पर लूटपाट कर रही थी, तब उसका विरोध गांव वालों ने किया। जब विरोध अधिक बढ़ गया तो पुलिस मौके से चली गई, उसके बाद अपने आलाधिकारियों को घटना की जानकारी दी। इसके बाद कई थानों का फोर्स मौके पर पहुंचा। पुलिस ने लोगों को मौके से भगाना शुरू कर दिया। उसके बाद सीओ सिटी शरद कुमार और अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन सिंह घटना स्थल पर पहुंचे। उन्होंने सभी पुलिस कर्मियों से घटना की पूरी जानकारी ली और वापस चले गए। सीओ ने पुलिस फोर्स के साथ पूरे गांव की गलियों में गश्त कराई है। साथ ही साथ गांव वालों को यह भी चेतावनी दी कि जिन लोगों ने पुलिस के ऊपर हमला किया है, उनके नाम बता दें तो सभी के लिए अच्छा होगा। सूत्रों की मानें देशी शराब के ठेके पर डायल 100 की पुलिस से झगड़ा की शुरुआत हुई थी। पुलिस ने जमकर ठेके पर बबाल मचाया था, उसी के चलते गांव वाले पुलिस के खिलाफ हो गए और जाम लगा दिया था।

पूरे गांव में पुलिस ने किया गश्त, दी चेतावनी

पुलिस फोर्स पर ग्रामीणों द्वारा किए गए पथराव के बाद कई थानों की पुलिस फोर्स ने गांव में गश्त किया और ग्रामीणों को चेताया। पुलिस अफसरों ने ग्रामीणों से कहा कि वह पुलिस पर पथराव करने वाले लोगों का नाम बता दें तो ठीक होगा, वरना वह परिणाम भुगतने को तैयार रहें। पुलिस की इस चेतावनी के बाद ग्रामीण भयभीत हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned