सहकारी बैंक डायरेक्टर पद चुनावः भाजपा की जीत तय, 35 वर्षों से काबिज सपा नहीं कर पाई नामांकन

जिला सहकारी बैंक के डायरेक्टर पद पर लगभग 35 वर्षों से सपा नेताओं का कब्जा था, लेकिन भाजपा सरकार के आने के बाद इस बार सभी सपा नेताओं के चुनाव में कूदने तक की कोशिश नाकाम साबित हुई है।

By: Abhishek Gupta

Updated: 26 Jun 2020, 10:50 PM IST

फर्रुखाबाद. जिला सहकारी बैंक के डायरेक्टर पद पर लगभग 35 वर्षों से सपा नेताओं का कब्जा था, लेकिन भाजपा सरकार के आने के बाद इस बार सभी सपा नेताओं के चुनाव में कूदने तक की कोशिश नाकाम साबित हुई है। विरोध प्रदर्शन से लेकर नामांकन की उनकी मांग धरी की धरी रह गई है। जिला सहकारी बैंक में हुए डायरेक्टर के नामांकन में पूर्व सांसद छोटे सिंह यादव के समर्थक को नामांकन पत्र खरीदने के प्रयास में भाजपा नेताओं नें पीट दिया। इसके बाद वह मौके से चले गये और जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन करने लगे। जिलाधिकारी के निर्देश पर भी पुलिस उनका पर्चा दाखिल नहीं करा सकी।

सहकारी बैंक फतेहगढ़ में डायरेक्टर पदों के लिए नामांकन पत्र खरीद और उन्हें दाखिल करने की प्रक्रिया सुबह 10 बजे से शुरू हुई। इसके बाद शाम 4 बजे तक चली। पूर्व सपा सांसद समर्थक दिगम्बर सिंह के पुत्र दिग्विजय सिंह अपने साथ महिला कंचन कनौजिया को लेकर पर्चा खरीदने बैंक पहुंचे। जैसे ही कार बैंक के बाहर रुकी पहले से सक्रिय बड़ी संख्या में भाजपायों नें उन्हें घेर लिया। दिग्विजय के साथ कुछ भाजपाईयों ने हाथापाई और धक्का-मुक्की भी कर दी। जिसके बाद वह वापस चले गये।

मामले की जानकारी होने पर पर्चा खरीदने आये पूर्व सांसद समर्थक दिगम्बर सिंह अपने साथियों के साथ जिलाधिकारी के कार्यालय के बाहर धरने पर बैठ गये। उन्होंने जिलाधिकारी से कहा कि भाजपा नेता उन्हें नामांकन करने नहीं दे रहे। जिलाधिकारी ने धरने पर बैठे लोगों का नामांकन कराने के निर्देश दिये। जिसके बाद दिगम्बर उनके पुत्र दिग्विजय आदि बैंक की तरफ पंहुचे, लेकिन भाजपा नेताओं की संख्या अधिक होने से बैंक के इर्दगिर्द जाने की हिम्मत नहीं जुटा पाए। जिससे उनका नामांकन नहीं हो सका। भाजपा से कुलदीप गंगवार का एक मात्र परचा दाखिल हो गया। कायमगंज के भाजपा पूर्व विधायक कुलदीप गंगवार का सहकारी बैंक का अध्यक्ष निर्विरोध बनना लगभग तय हो गया है।

सहकारी बैक में नामांकन पत्रों की खरीद और नामांकन दाखिल होनें थे।जेएनबी रोड के निरीक्षण भवन में पूर्व मंत्री अर्चना पाण्डेय, कन्नौज सांसद सुब्रत पाठक, सांसद मुकेश राजपूत, विधायक सुशील शाक्य, नागेन्द्र सिंह राठौर, मेजर सुनील दत्त द्विवेदी आदि ने पंहुच कर चुनाव पर अपनी नजर लगा दी।

जिसके बाद कुल 14 संचालन समिति के पदों के लिए कुल 15 लोगों नें नामांकन किये।जिसमे कायमगंज तहसील से वीरेंद्र कठेरिया व कुलदीप गंगवार नें नामांकन किया। सदर तहसील से पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष भू देव राजपूत, दिनेश चन्द्र मिश्रा, छिबरामऊ से आनन्द किशोर दुबे, अन्य समितियों में शैलेन्द्र सिंह राठौर, व्लाक प्रमुख उमर्दा अजय कुमार व रामपाल ने तिर्वा,व्रत्तिक अर्थशास्त्र नरेश चन्द्र कटियार, अमर सिंह कुशवाह व्रत्तिक बैंकिंग, भाजपा नेता भास्कर दत्त द्विवेदी की माँ रतनेश द्विवेदी नें अमृतपुर तहसील, अरविन्द कुमार त्रिपाठी कन्नौज, यादराम फर्रुखाबाद तहसील सीट, उमेश चन्द्र नें कन्नौज के अन्य सीट से पर्चा दाखिल कर दिया।यह सभी डायरेक्टर पद पर पर्चा दाखिल करने वाले भाजपा नेता या उनके परिजन है। जिससे अब सहकारी बैंक के अध्यक्ष पद पर पूर्व विधायक कुलदीप गंगवार की ताजपोशी होना लगभग तय हो गया है। जिससे उनके समर्थकों में ख़ुशी की लहर है।

BJP
Abhishek Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned